बेनीपट्टी(मधुबनी)। मौसम में बदलाव होने के साथ ही अस्पतालों में कोल्ड डायरिया के मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है। अस्थमा के मरीजों के अलावा बच्चों के लिए यह मौसम काफी घातक साबित हो सकता है। इसमें लापरवाही बरतने की जरूरत नहीं है।

1

बेनीपट्टी के प्रसिद्ध शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ पीएन झा ने बताया कि इस मौसम में बच्चों को ठंड से बचाने के साथ ही गर्म चीजों का ही सेवन कराना चाहिए। उल्टी या लूज मोशन होने पर फौरन चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

2

डॉ झा ने बताया कि कोल्ड डायरिया में बच्चे को उल्टी होना, लूज मोशन, बुखार, शरीर में पानी की कमी मुख्य लक्षण है। उन्होंने कहा कि ऐसे मौसम में ठंड से बचाव करें, गर्म कपड़े पहनकर रखें, साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दें, खाना खाने से पहले साबुन से हाथ धोएं, बाहरी खानपान से परहेज करें, प्राथमिक उपचार, ओआरएस का घोल बनाकर पिलाएं, ठंड से बचाकर रखें, चिकित्सक से परामर्श करें, नियमित दवा का सेवन कराएं।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here




ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post