बांध की मरम्मत में बालू युक्त मिट्टी के उपयोग पर डीएम ने दिया प्राथमिकी के निर्देश - BNN News

Breaking

20 Jun 2018

बांध की मरम्मत में बालू युक्त मिट्टी के उपयोग पर डीएम ने दिया प्राथमिकी के निर्देश

बेनीपट्टी(मधुबनी)। जिला पदाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने मंगलवार को बेनीपट्टी व बिस्फी के जमींदारी बांध के मरम्मति कार्य का निरीक्षण किया। डीएम ने बेनीपट्टी के रानीपुर में सीमा विवाद में चौदह वर्षों से मरम्मति से वंचित रानीपुर के जमींदारी बांध का निरीक्षण किया। फिलहाल, प्रशासनिक कवायद के बाद रानीपुर के बांध का जल संसाधन विभाग के द्वारा मरम्मति कराई जा रही है। निरीक्षण के दौरान रानीपुर के ग्रामीणों ने डीएम से बांध के मरम्मति में ठीकेदार की ओर से अनियमितता किए जाने की शिकायत की, ग्रामीणों ने बताया कि बांध मरम्मति में बालू युक्त मिट्टी का इस्तेमाल किया जा रहा है। जिसके कारण बांध जलप्रवाह को झेल नहीं पायेगा। ग्रामीणों के शिकायत पर गंभीर हुए डीएम ने करीब आधा किलोमीटर पांव पैदल चलकर धौंस नदी का जायजा लिया। जहाँ ठेकेदार की ओर से नदी का पेट काट कर बांध पर दी गयी है। नदी के कटाव को देख डीएम ने बेनीपट्टी एसडीएम व अंचलाधिकारी को पूरे बांध की स्थल निरीक्षण कर अनियमितता दिखाई दिए जाने पर प्राथमिकी दर्ज किए जाने का निर्देश दिया। वही बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल-(1) के जेई सुधीर प्रसाद को सभी कटाव स्थल के समीप बोरा में मिट्टी रखकर बैग रखने का निर्देश दिया। इसी दौरान डीएम को कुछ ग्रामीणों ने धौंस नदी पर गुलरिया टोल के आवाजाही के लिए पूल निर्माण कराने की मांग की, जिस पर डीएम ने ग्रामीणों को आम सभा कर पूल निर्माण के लिए प्रस्ताव पारित कर भेजने की बात कही। बेनीपट्टी के बांध के निरीक्षण के दौरान ग्रामीणों ने डीएम से जमींदारी बांध के मरम्मति में हुए व्यापक पैमाने पर अनियमितता की शिकायत की। मौके पर पुलिस अधीक्षक दीपक बरणवाल, एसडीएम मुकेश रंजन, अंचलाधिकारी पुरेन्द्र कुमार सिंह, एसएचओ सह पुलिस निरीक्षक हरेराम साह, जेई सुधीर प्रसाद, ग्रामीण अमोल झा, लालबाबू झा समेत कई ग्रामीण मौजूद थे। उधर, जिलाधिकारी व एसपी ने बिस्फी प्रखंड के जमींदारी बांधों का भी निरीक्षण किया।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें