जरैल के स्वास्थ्य उपकेन्द्र पर नजर नहीं आती प्रतिनियुक्त एएनएम - BNN News

Latest

1 Mar 2019

जरैल के स्वास्थ्य उपकेन्द्र पर नजर नहीं आती प्रतिनियुक्त एएनएम

बेनीपट्टी (मधुबनी)। ग्रामीण क्षेत्र के मरीजों के लिए स्वास्थ्य उपकेन्द्र खोले जाने की विभाग की योजना धरातल पर नहीं उतर रही है। आज भी ग्रामीण क्षेत्र के मरीज हल्की बुखार होने पर भी मुख्यालय पहुंच कर अपना इलाज कराने को विवश है। विभाग के दावें के बावजूद ग्रामीण क्षेत्र के स्वास्थ्य उपकेन्द्र समय पर खुलना तो दूर महीनों तक केन्द्र पर ताला झूलता रहता है। बेनीपट्टी प्रखंड के परसौना पंचायत के जरैल गांव में सुदूर ग्रामीण इलाकों के मरीजों के लिए वर्षों पूर्व खुला स्वास्थ्य उपकेन्द्र प्रतिनियुक्त एएनएम के उदासीनता के कारण महीनों से बंद पड़ा हुआ है। ग्रामीणों ने बताया कि स्वास्थ्य उपकेन्द्र अंतिम बार कब खुला, कुछ याद नहीं है।उपकेन्द्र की हालत को देख ग्रामीणों की बात सही साबित कर रही है। उपकेन्द्र पर मरीजों के लिए दवा व संचालन होने के बजाय एएनएम की ओर से लगाई गयी ताला झूल रहा था। ये दीगर है कि उपकेन्द्र पर विभागीय सारे दिशा-निर्देश का बोर्ड लटका हुआ था। जिससे ये भवन अपने आपको स्वास्थ्य उपकेन्द्र साबित कर रहा था। गौरतलब है कि ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवा की सुविधा स्थानीय स्तर पर प्रदान करने के लिए बेनीपट्टी प्रखंड में करीब 37 स्वास्थ्य उपकेन्द्र एवं चार अतरिक्त स्वास्थ्य उपकेन्द्र बनाये गये है। जिसमें माधोपुर के बृजहरि औषधालय, शिवनगर , अकौर एवं एकतारा में है। सूत्रों की माने तो बेनीपट्टी प्रखंड के अधिकांश स्वास्थ्य उपकेन्द्र अपने लक्ष्य से भटक गयी है। जरैल के स्वास्थ्य उपकेन्द्र पर विभाग की ओर से दो एएनएम की प्रतिनियुक्ति की गयी है। जरैल के स्वास्थ्य उपकेन्द्र पर प्रतिनियुक्त एएनएम के तौर पर नीलम कुमारी व आभा कुमारी की है। एएनएम की माने तो विभागीय कार्य से लगातार पोषक क्षेत्र में कार्यरत होने के कारण स्वास्थ्य उपकेन्द्र पर समय नहीं दे पाती है। विभागीय टीकाकरण अथवा कोई अन्य कार्य से समय मिलते ही उपकेन्द्र को समय पर संचालन के लिए खोला जाता है। वहीं इस संबंध में प्राथमिक चिकित्सा केन्द्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. रविन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि दोनों एएनएम से बात की जा रही है। समस्या होने पर निदान किया जाएगा। उपकेन्द्र को हर हाल में समय पर संचालन किए जाने का निर्देश दिया जा चुका है।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें