जलजमाव से हो गयी बेनीपट्टी बाजार की स्थिति नारकीय - BNN News

Breaking

11 Jul 2019

जलजमाव से हो गयी बेनीपट्टी बाजार की स्थिति नारकीय

बेनीपट्टी(मधुबनी)। सोमवार के सुबह हुई बारिश से बेनीपट्टी बाजार की स्थिति नारकीय हो गयी है। करीब तीन किमी में फैले बाजार में जलजमाव से आवाजाही की समस्या हो गयी है। बेनीपट्टी के लोहिया चौक, कॉपरेटिव बैंक के समीप, विद्यापति चौक के समीप व स्टेट बैंक के समीप जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो गयी है। जलजमाव से पैदल आवाजाही प्रभावित हो गयी है। स्थानीय दुकानदारों ने बताया कि जलजमाव के कारण दुकानदारी प्रभावित होने के साथ गंदे पानी से उठ रहे दुर्घन्ध के कारण दुकान पर बैठना भी मुश्किल हो रहा है। वही, भारी वाहन के टायर से गंदे पानी के उछलने से समस्या और बढ़ जाती है। गौरतलब है कि सरकारी जमीन को अतिक्रमण किए लोगों ने नाला निर्माण का जमकर विरोध किया। जिसके कारण संबेदक ने पूरे बेनीपट्टी बाजार में नाला का निर्माण किए हुये बिना ही लौट गया। नाला निर्माण के अधूरा रह जाने से स्टेट हाईवे-52 सड़क के दोनों किनारे जलनिकासी की समस्या गंभीर बनी हो जाती है। अनुमंडल गठन के तीन दशक बाद भी सड़क किनारों में नाला का निर्माण नहीं होने के कारण स्थिति ऐसी है कि लोगों द्वारा घरों और होटलों का गंदा पानी स्टेट हाइवे 52 सड़क पर ही बहाया जाता है। जानकारी दें कि कुछ वर्षों पूर्व बेनीपट्टी के तत्कालीन विधायक व वर्तमान में सूबे के पीएचइडी मंत्री विनोद नारायण झा के पहल पर तत्कालीन पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने बेनीपट्टी में नाला निर्माण की स्वीकृति दी थी। तत्पश्चात पथ निर्माण विभाग द्वारा संवेदक बहाल कर बेनीपट्टी बाजार के स्टेट हाइवे 52 सड़क के एक किनारे नाला निर्माण का कार्य तो प्रारंभ कराया गया परंतु वह भी आधा - अधूरा ही रह गया और जलनिकासी की दृष्टिकोण से यह नाला काम का नहीं रह गया। इस दौरान स्थानीय लोग अधूरे नाले में घर का कचरा सामान फेंक कर नाला को अघोषित तौर पर बंद कर दिया। नाला के जाम होने एवं नाला का पूर्ण निर्माण नहीं होने के कारण बारिश के समय में उक्त नाला समस्या की जड़ बन जाती है। बेनीपट्टी बाजार के समाजसेवी विजय कुमार झा, लीलानाथ मिश्र, अरुण कुमार ठाकुर, सितेश कुमार पासवान, मो. वसीम अंसारी सहित कई लोगों ने बताया कि प्रशासन को बाजार के अतिक्रमित स्थल को खाली कराना चाहिए, फिर नाला को पूर्ण कराने के लिए सामुहिक प्रयास किया जाना चाहिए। लोगों की माने तो जब तक अतिक्रमणकारियों का बोलबाला होगा, तब तक कोई विकास का कार्य संभव नहीं है। इस संबंध में पूछे जाने पर एसडीएम मुकेश रंजन ने बताया कि अतिक्रमणकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए सीओ से पूरी रिपोर्ट मांगी गयी है। रिपोर्ट प्राप्त होते ही ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें