Ticker

6/recent/ticker-posts

कॉलेज के छात्राओं ने किया मानव श्रृंखला का पूर्वाभ्यास

बेनीपट्टी (मधुबनी)। बाल विवाह एवं दहेज उन्मूलन के समर्थन में रविवार को आयोजित राज्य व्यापी मानव श्रृंखला के सफलता के लिए पूरा प्रशासनिक अमला के साथ शिक्षण संस्थान भी जुट गया है। शनिवार को मुख्यालय के डा. नीलाबंर चौधरी महाविद्यालय परिसर में वित्तरहित शिक्षक व कॉलेज की छात्रों ने मानव श्रृंखला के समर्थन में नुक्कड़-नाटक कर मानव श्रृंखला का पूर्वाभ्यास किया। कॉलेज पहुंचे भाजपा के जिलाध्यक्ष घनश्याम ठाकुर ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि बाल विवाह एवं दहेज प्रथा सभ्य समाज के लिए कोढ़ साबित हो चुका है। शिक्षा-ग्रहण करने के समय बच्चियों की शादी करा दी जाती है। जिसके कारण बच्ची अपनी प्रतिभा को निखार नहीं पाती है। जिसका कसूरवार पूरा समाज है। श्री ठाकुर ने कहा कि अब समय आ गया है कि इस कुरीति को समाप्त करने के लिए सभी एकजुट होकर 21 जनवरी को हाथ से हाथ मिलाकर मुख्य सड़क पर आकर कुरीति को खत्म करने की मुहिम को समर्थन दें। वहीं कॉलेज के प्राचार्य भवानंद झा ने सभी छात्रों को मानव श्रृंखला में जुटकर कुरीति को समाप्त करने की अपील करते हुए कहा कि जब तक समाज में जागरुकता नहीं आएगी, तब तक कुरीति को समाप्त नहीं किया जा सकता है। कुरीति को हर हाल में समाप्त करना आवश्यक है। प्राचार्य झा ने कहा कि कुरीति को खत्म करने के लिए शिक्षा की अहम योगदान है। प्राचार्य झा ने सभी छात्रों को संबोधित कर कहा कि कुरीति के कारण समाज कई भागां में बंट गया है। जिसको एक करने के लिए कुरीति को समाप्त करना जरुरी है। प्राचार्य ने सभी शिक्षकों से भी मानव श्रृंखला में भाग लेने की अपील की। मौके पर सभी छात्रों ने मानव श्रृंखला के समर्थन में जमकर नारेबाजी की। कार्यक्रम में प्रो. अकील परसौनवी, प्रो. महानंद झा, प्रो. मीनू पाठक, रत्नेश्वर ठाकुर, प्रो. शिवकुमार यादव, प्रो. रामनारायण झा, प्रो. मुनेश्वर झा सहित कई शिक्षक मौजूद थे।

Post a comment

0 Comments