बाढ़ से ध्वस्त हुए कई रास्ता अब तक बाधित, लोग हलकान - BNN News

Latest

18 Jan 2018

बाढ़ से ध्वस्त हुए कई रास्ता अब तक बाधित, लोग हलकान

बेनीपट्टी (मधुबनी)। बाढ़ की विनाशलीला के चार महीने गुजरने के बाद भी लोगों को बाढ़ की भयावहता झेलनी पड़ रही है। बाढ़ में ध्वस्त सड़कों पर मिट्टी देकर आवागमन को चालू कर दिया गया, लेकिन पुलिया के ध्वस्त होने पर प्रशासन अब तक कार्रवाई तो दूर आवागमन को भी चालू कराने में नाकाम साबित हो रही है। बाढ़ की तेज बहाव में कई गांव के आवागमन पर अभी भी ब्रेक लगा हुआ है। जिसके कारण ग्रामीणों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। खास तौर पर रातों को लोग के बीमार होने पर समस्या अधिक उत्पन्न हो रही है। जानकारी दें कि बाढ़ गत वर्ष के 13 सितंबर को बेनीपट्टी प्रखंड में प्रवेश कर गयी थी। अन्य बाढ़ की तुलना में इस वर्ष बाढ़ के पानी में अधिक तेज बहाव होने के कारण प्रखंड के पश्चिमी क्षेत्र के कई गांव को तहस-नहस कर दिया। कई पुलिया ध्वस्त हो गयी तो दर्जनों सड़क पानी के तेज बहाव में कट कर क्षतिग्रस्त हो गयी। पानी कम होने के बाद प्रशासन ने सभी गांवों के आवागमन को चालू कराने का दावा किया था। परंतु कई गांवों की स्थिति ऐसी है कि बाढ़ के चार माह गुजर जाने के बाद भी आवागमन चालू नहीं करा पायी है। पाली के सोईली गांव में जहां खरंजा युक्त सड़क कटाव की चपेट में अब तक है। वहीं मेघवन में अब तक बांध कटाव की आगोश में समाए हुए है। शिवनगर गांव में अब भी बाढ़ की त्रासदी की निशानी प्रशासनिक दावों की पोल खोल रहा है। शिवनगर मध्य विद्यालय की ओर जाने वाली दो पुलिया अब तक ध्वस्त है। एक पुलिया तो पूर्णरुप से जमींदोज होकर आवागमन को अवरुद्ध कर दिया है। वहीं दूसरी पुलिया अंदर से खोखला होकर दुर्घटना को आमंत्रित कर रही है। दूसरी ओर एपीएचसी जाने वाली पीसीसी सड़क के अंदर से मिट्टी झिटक जाने से सड़क का भविष्य अधर में लटका हुआ है तो वहीं इससे आगे का पुलिया भी कटाव की चपेट में है। उधर बर्री पंचायत में भी कई जगहों पर अब तक सड़क व पुलिया ध्वस्त होने की जानकारी दी गयी है। ग्रामीणों की माने तो बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का आवागमन चार माह के बाद भी अवरुद्ध होना कही न कहीं प्रशासनिक विफलता है। वहीं सूत्रों की माने तो कई सड़क को कागजों पर आवागमन चालू दिखाया गया है। जबकि धरातल पर आवागमन चालू के दावें खोखले साबित हो रहे है। इस संबंध में पूछे जाने पर अनुमंडल पदाधिकारी मुकेश रंजन ने बताया कि बांध को मनरेगा योजना से मरम्मत कराई जाएगी। शेष सड़कों की जानकारी ली जा रही है। आवागमन चालू कराने का निर्देश दिया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें