बेनीपट्टी(मधुबनी)। प्रखंड के पश्चिमी इलाके के सीतामढ़ी जिले की सीमा के पास अवस्थित विशनपुर पंचायत की अधिकांश सड़कों की स्थिति जर्जर है. एसएच-52 मकिया बसैठ पुपरी मुख्य सड़क से विशनपुर गांव जानेवाली मुख्य सड़क की जर्जरता से राहगीरों की परेशानी बढ़ चुकी है. सर्वाधिक बाढ़ प्रभावित इलाकों में शामिल इस इलाके के सभी सड़कों को साल दर साल बाढ़ की विभीषिका से जर्जर होते रहना मानो नियति सी बन चुकी है. कई जगहों पर यह सड़क बाढ़ की चपेट में आने से ध्वस्त हो चुकी है, जहां इंट के टुकड़े और रोड़े पत्थर डालकर येन केन प्रकारेण तात्कालिक रूप से चलने लायक बनाया गया, जो अब भी उसी तरह कायम है. वहीं दर्जनों जगहों पर इस सड़क में बड़ी-बड़ी दरारें निकली हुई है तो कुछेक भागों में सड़क की चौड़ाई का आधा हिस्सा टूटकर बिखर चुका है, जो दुर्घटनाओं को दावत दे रहा है. आवाजाही के क्रम में कई वाहन दुर्घटना का शिकार भी हो चुकी है, बावजूद अब तक उक्त सड़क की मरम्मती या नये सिरे से निर्माण कराने की दिशा में न तो कोई अधिकारी दिलचस्पी ले रहे हैं न ही कोई जनप्रतिनिधि ही इस मुद्दे को लेकर कोई सकारात्मक पहल कर रहे हैं.

बताते चलें कि बाढ़ और बरसात के दिनों में यह सड़क न केवल जानलेबा साबित होती है बल्कि महीनों तक इस सड़कों से आवागमन ठप होकर रह जाता है. जबकि यह सड़क फुलबरिया, राजघट्टा, सिरवारा, बर्री, माधोपुर, रजबा गांव को स्टेट हाइवे से जोड़नेवाली पक्की सड़क है. ग्रामीण इलाकों में पीसीसी है और अब भी कुछ भागों में तह खरंजाकृत तक ही सिमटकर रह गयी है. सड़क की जर्जरता से परेशान ग्रामीण रवींद्र कुमार सिंह, संतोष कुमार सिंह, हरिलाल पासवान, अबुल कलाम, रमण मिश्रा, नवीन मिश्र, भोगेंद्र मिश्र, रूपेश पासवान, विकास पासवान व शंकर मिश्र सहित कई लोगों ने कहा कि लोग जान हथेली पर रखकर इस सड़क से आवाजाही करने को विवश हैं. बरसात और बाढ़ के दिनों में आपात स्थिति से जूझ रहे मरीजों को किस तरह अस्पताल तक पहुंचाया जाता है, इसकी कल्पना करने पर ही रूह कांपने लगता है. सड़क निर्माण के लिये कई बार अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों से गुहार लगाया जा चुका है, लेकिन अब तक नतीजा सिफर ही रहा है. जल्द ही इस जर्जर सड़क का पुनर्निर्माण की दिशा में पहल नही किया गया तो हम ग्रामीण आंदोलन पर उतरने को बाध्य होंगे. इस बाबत ग्रामीण कार्य विभाग के बेनीपट्टी प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता अशोक कुमार ने बताया कि सड़क निर्माण के लिये विभाग को लिखा गया है और निर्देश मिलते ही नये सिरे से निर्माण करा समस्या का निदान करने का प्रयास किया जायेगा.

2


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here




ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post