Ticker

6/recent/ticker-posts

बेनीपट्टी में BJP के विनोद नारायण झा जीत के साथ टूटे कई रिकॉर्ड, 13 प्रत्याशी नहीं बचा सके जमानत


बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के चुनावी परिणाम सामने आ चुके हैं। जिसमें बेनीपट्टी सीट से BJP के विनोद नारायण झा भारी मतों से निर्वाचित हुए हैं। विनोद नारायण झा को 78862 वोट मिले। जिनमें ईवीएम के माध्यम से 78723 वोट व 139 वोट पोस्टल बैलट से मिले हैं।

जबकि दूसरे नम्बर पर रहे महागठबंधन समर्थित कांग्रेस उम्मीदवार भावना झा को 46210 वोट मिले। जिनमें ईवीएम से 45819 वोट, जबकि पोस्टल बैलट से 391 वोट मिले है।

दोनों उम्मीदवारों के बीच हार-जीत का आंकड़ा 32652 का रहा, जो कि बेनीपट्टी सीट से अब तक का रिकॉर्ड अंतर से चुनाव जीतने का बन चुका है। साथ ही किसी एक उम्मीदवार को सर्वाधिक वोट मिलने का रिकॉर्ड भी इस बार बना है, जो कि इससे पहले भावना झा के नाम था। भावना झा 2015 के चुनाव में 55978 वोट प्राप्त कर अपने पिता स्व. युगेश्वर झा को 1990 के चुनाव में मिले 55147 वोट के रिकॉर्ड को तोड़ा था। इन सारे रिकॉर्ड को 2020 के चुनाव में BJP के उम्मीदवार विनोद नारायण झा ने तोड़ दिया है। विनोद नारायण झा को बेनीपट्टी विधानसभा चुनाव के अब तक के इतिहास में सबसे अधिक मत 78862 वोट मिले हैं। जो कि 2020 चुनाव में हुए कुल मतदान के 50% से अधिक वोट है, यह भी एक रिकॉर्ड बना है।

बेनीपट्टी सीट से 2020 के चुनाव में कुल 15 उम्मीदवार मैदान में थे। जिनमें 13 उम्मीदवारों का जमानत जब्त हो गया। 

जिन उम्मीदवारों के जमानत जब्त हुए उनमें 

नागेंद्र प्रसाद यादव 1857 वोट, अनुराधा सिंह 1841 वोट, नूतन देवी 606 वोट, अबू बकर रहमानी 752 वोट, अमरनाथ 522 वोट, चंदन कुमार 569 वोट, नीरज कुमार झा 3878 वोट, मिथिलेश चंद्र झा 557, राजेश कुमार यादव 9572 वोट, रूपेश कुमार 910 वोट, ललन किशोर झा 2299 वोट, विनोद शंकर झा 3559 वोट, विनोदानंद कामत 2128 वोट शामिल हैं।

जानकारी हो कि किसी विधानसभा में कुल मतदान के 1/6 वोट मिलने के बाद ही किसी उम्मीदवार की जमानत राशि वापस होती है। इस बार बेनीपट्टी सीट पर 156001 वोट गिरे, इस आधार पर जमानत बचाने के लिए उम्मीदवारों को 26000 वोट लाना जरूरी था, जो कि जितने वाले BJP के विनोद नारायण झा व दूसरे नम्बर पर रही कांग्रेस की भावना झा के अलावे किसी को प्राप्त नहीं हुआ। इस चुनाव में नोटा को 1648 वोट मिले हैं।

बता दें कि 2010 के विधानसभा चुनाव में 31198 वोट लाकर BJP के विनोद नारायण झा विधायक निर्वाचित हुए थे। 2010 में BJP के साथ JDU का गठबंधन था। 2015 में विनोद नारायण झा को शिकस्त देने वाली व 2020 के चुनाव में दूसरे नम्बर पर रहने वाली कांग्रेस की भावना झा को 2010 में 13334 वोट मिले थे। भावना झा 2010 में तीसरे नम्बर पर रही थी। जबकि दूसरे नम्बर पर लोजपा के महेंद्र चन्द्र सिंह थे, जिनको 18556 मत मिले थे।

2015 में हुए विधानसभा चुनाव में BJP के उम्मीदवार विनोद नारायण झा को 51244 वोट मिले थे, बावजूद उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। इस बार JDU महागठबंधन के साथ थी। जबकि BJP के साथ LJP थी, जिसमें मतों की अच्छी खासी बढ़ोतरी के बाद भी विनोद नारायण झा जीत नहीं सके थे। 2015 में भावना झा को 55978 वोट मिले थे, जिसमें हार-जीत का अंतर 4674 वोटों का था।

Post a Comment

0 Comments