बेनीपट्टी(मधुबनी)। बेनीपट्टी के बेतौना पंचायत के उच्चैठ मध्य विद्यालय से फर्जी एमडीएम की रिपोर्ट किए जाने का मामला सामने आया है। एमडीएम के रिपोर्ट में फर्जीवाड़ा को स्कूल के रसोईयों ने ही ये कहकर पुष्टि कर दी कि पांच सितंबर को स्कूल प्रबंधकन की ओर से अवकाश दिया गया था। अब सवाल है कि स्कूल की सभी रसोईयां अवकाश पर थी तो फिर स्कूल के दो सौ एक छात्रों का एमडीएम कौन पका कर ग्रहण कर लिया। वायरल वीडियो में कहा जा रहा है कि स्कूल में पूर्व से ही पांच सितंबर को अवकाश घोषित किए दिए जाने के कारण स्कूल में न तो सभी कार्यरत शिक्षक ही पहुंच पाये थे न ही स्कूली छात्र। प्रभारी एचएम विन्देश्वरी मोची ने दूरभाष पर बताया कि पांच सितंबर को मात्र दो ही शिक्षक उपस्थित थे। उन्हांने बताया कि ही उस दिन सही में एमडीएम नहीं पका था। रिपोर्ट के संदर्भ में प्रभारी एचएम ने बताया कि भूलवश रिपोर्ट चली गई। एचएम ने बताया कि एमडीएम पंजी में भी उक्त तिथि को एमडीएम रिक्त है। अनियमितता किए जाने की बात को नकारते हुए कहा कि जल्दबाजी में भूल हो गई। वहीं वायरल वीडियो में शौचालय की बद्तर स्थिति को दिखाते हुए कहा गया कि विकास मद की 75 हजार की राशि अनियमितता की भेंट चढ़ जाने के कारण शौचालय की स्थिति खराब है। जिस पर एचएम ने बताया कि उक्त राशि से पूर्व के शौचालय को तोड़ कर नया शौचालय का निर्माण किया गया है। बिल की चर्चा करते ही प्रभारी एचएम चुप हो गए। जिससे स्पष्ट हो रहा है कि स्कूल में भारी अनियमितता की संभावना है। इस संबंध में पूछे जाने पर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी अरविंद कुमार ने बताया कि वो फिलहाल खजौली जा रहे है। आने पर उक्त स्कूल की जांच की जाएगी। जांच के बाद दोषी पर कार्रवाई की जाएगी।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here


Previous Post Next Post