Ticker

6/recent/ticker-posts

आपराधिक घटनाओं में इजाफा से दहशत में बेनीपट्टी

बेनीपट्टी(मधुबनी) कन्हैया मिश्रा- मधुबनी के बेनीपट्टी में अपराध पुलिस के काबू से बाहर हो चुकी है। वर्ष-2017 के निराशाजनक रिकॉर्ड को खत्म करने के बजाय पुलिस के निष्क्रियता से वर्ष 2018 में अपराधियों व चोर-उच्चको का मनोबल आसमां को छू गया, जिसके कारण पुलिस को अपराधियों की ओर से लगातार चुनौती मिलती रही। गत छह नवम्बर के सुबह करीब साढ़े दस बजे दिनदहाड़े हथियारों से लैस दो बाइक सवार अपराधियों ने बेनीपट्टी के सबसे व्यस्तम बेहटा के कालीस्थान के समीप स्टेट बैंक के ग्राहक सेवा केंद्र के संचालक के पुत्र चंद्रमोहन के हाथ से रुपये के बैग को लूट लिया। इस दौरान विरोध करने पर अपराधियों ने तीन युवकों को गोली से जख्मी कर दिया। हालांकि, अपराधियों ने एक युवक गोपाल कामत को जान से मारने का पूरा प्रयास किया था, परंतु भगवान के चाह से गोपाल कामत सुरक्षित रह गया। अपराधियों के द्वारा ताबड़तोड़ फायरिंग व भागने की अचूक कला से साफ है कि अपराध में शामिल अपराधी हार्डकोर व शार्प शूटर था। इससे पुलिस निपटती की अगले दिन अरेर के लोहा में डकैतों ने अवकाशप्राप्त शिक्षक के घर भीषण डकैती की घटना को अंजाम देकर पूरे पुलिस महकमा को सकते में ला दिया। स्थिति इस कदर खराब होने लगी कि खुद एसपी को उतरना पड़ा। लगातार हो रहे आपराधिक घटनाओं से पूरे क्षेत्र के लोग दहशत में है। बता दे कि गत वर्ष अपराधियों ने इसी तरह पेट्रोल पंप संचालक विक्की प्रधान उर्फ रंजन पर जान से मारने के नियत से गोली मारी थी। घटना थाना से महज तीन से चार सौ फीट की दूरी पर बेनीपट्टी-हरलाखी पथ पर हुआ। वही इसी दरम्यान अपराधियों ब्लॉक के बाईपास रोड पर गैस एजेंसी के संचालक उदय यादव के साथ हथियार के बल पर लूट की तो वही हिसार के सीएसपी संचालक राजेश कुमार से 1.65 लाख रुपये के लूट महमदपुर में मुख्य पथ पर किये। हालांकि, इस दौरान पुलिस ने सीएसपी लूट मामले के उद्भेदन किये जाने का दावा किया तो एक साथ तीन अपराधियों के गिरफ्तारी के बाद कई मामले के खुलासे होने के दावे किए गए। विगत माह में हरलाखी थाना में डकैती की घटना हो चुकी है। वही सीएसपी संचालक से हुई लूट आज भी हरलाखी पुलिस के लिए अबूझ पहेली बनकर रह गयी है। गौरतलब है कि बेनीपट्टी थाना क्षेत्र के विभिन्न गांव में विगत दो वर्षों के अंदर करोड़ो की चोरी की घटना प्रतिवेदित हो चुकी है। वही बाइक चोरी की घटना भी कई हो चुकी है, मगर हैरत की बात है कि पिछले दो साल में हुई चोरी के मामले में एक भी मामले का पुलिस ने अब तक उद्भेदन नहीं कर सकी है। एक आंकड़े के अनुसार इस वर्ष अकेले बेनीपट्टी थाना क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में अब तक बीस लाख से अधिक की चोरी की घटना हो चुकी है। वहीं बाईक की चोरी पुलिस के लिए अलग ही सिरदर्द साबित कर देती है। आम लोगों की माने तो पुलिस सिर्फ गश्ती पर सही से ध्यान दे तो आपराधिक घटनाओं पर लगाम लग सकती है। इस संबंध में पूछे जाने पर एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने बताया कि पुलिस सभी मामलों का जल्द ही उद्भेदन करेगी। किसी भी स्तर पर चूक होने पर कार्रवाई की जाती है। फिलहाल, लोहा में हुए डकैती व बेनीपट्टी के लूटकांड का उद्भेदन करने में लगी हुई है। जल्द ही सफलता मिलेगी।

Post a comment

0 Comments