एचएम के मनमानी से प्रभावित हो रहा महमदपुर का मध्य विद्यालय - BNN News

Latest

26 May 2018

एचएम के मनमानी से प्रभावित हो रहा महमदपुर का मध्य विद्यालय

बेनीपट्टी(मधुबनी)। महमदपुर के मध्य विद्यालय में प्रभारी एचएम का मनमानी चल रहा है। प्रभारी एचएम अक्सर स्कूल में नोटिस कर गायब रहते है। जिसके कारण स्कूल का शैक्षणिक माहौल बर्बाद हो गया है। ग्रामीणों की ओर से कई बार स्कूल की स्थिति के संबंध में जांच के लिए आवेदन दिए गए, लेकिन एक भी आवेदन पर अब तक कार्रवाई नहीं किए जाने के कारण स्कूल के कर्ता-धर्ता का मनोबल इस कदर बढ़ गया है कि स्कूल में पढ़ाई तो दूर बच्चों को विशेष फल भी नहीं दिया जा रहा है। छात्रों ने बताया कि अन्य स्कूलों में एमडीएम के बाद फल अथवा अंडा दिया जाने का प्रावधान है, लेकिन इस स्कूल में सुबह प्रार्थना के समय ही कभी केला तो कभी सेव देकर खानापूर्ति की जाती है। थोड़ी भी देर से आने के बाद बच्चों को न तो फल ही दिए जाते है, न ही अंडा। वहीं स्कूल के शैक्षणिक स्तर का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि स्कूल के आठ वर्ग में नामांकित छात्रों को पटना के नदी एवं देश के उपराष्ट्रपति का नाम तक नहीं मालूम है। छात्रों ने बताया कि जब स्कूल में सामान्य ज्ञान की पढ़ाई कराई जाएगी, तब तो उन्हें जानकारी होगी। गौरतलब है कि शुक्रवार को महमदपुर के मध्य विद्यालय का जायजा करीब दस बजे लिया गया। जहां प्रभारी गायब नजर आए। वहीं एक शिक्षिका स्कूल के किनारे में मोबाईल से बात करती नजर आयी तो वही दूसरी ओर एक शिक्षक सोशल साईट्स पर ध्यान एकाग्र करते नजर आए। प्रभारी के संबंध में पूछे जाने पर सहायक शिक्षक ने बताया कि प्रभारी एचएम विद्यालय के कार्य का हवाला देकर बेनीपट्टी चले गए है। इसके अलावा, नोटिस पर कुछ नहीं लिखा हुआ है। इस दौरान सभी वर्ग के छात्र उपरी तल्ला पर खेलते हुए नजर आए। कैमरा ऑन होने पर हरकत में आए शिक्षक सभी छात्रों को क्लास के अंदर ले गए। जहां वर्ग सात के छात्राओं ने बताया कि दस बजे तक सिर्फ एक ही विषय की पढ़ाई हुई है। इसी से स्कूल के वातावरण का अंदाजा लगाया जा सकता है, कि सुबह सात बजे से हो रही पढ़ाई के दौरान मात्र एक ही विषय की पढ़ाई हुई है। विशेष फल के संबंध में पूछे जाने पर दर्जनों छात्रों ने बताया कि मार्निंग स्कूल होने के कारण कुछ देर हमेशा हो जाती है। इस वजह से उनलोगों को न तो फल मिले है, न ही अंडा। एक सहायक शिक्षक ने बताया कि स्कूल में अब तक मात्र एक बार ही अंडा का वितरण कराया गया है। वहीं शुक्रवार को मैन्यू के उलट एमडीएम में आलू-सोयाबीन की सब्जी बनाई जा रही थी। गौरतलब है कि महमदपुर के मध्य विद्यालय में करीब साढ़े छह सौ छात्र नामांकित है। जिन्हें शिक्षा देने के लिए विभाग की ओर से करीब नौ शिक्षक तैनात किए गए है। लेकिन, विडंबना है कि स्कूल का स्तर लगातार गिर रहा है। जिस पर न तो विभाग की नजर है, न ही क्षेत्र के शिक्षाविद्ो की। उधर, सूत्रों की माने तो स्कूल की सभी योजनाओं की जांच की जाए तो स्कूल से घोटाला का जिन्न का निकलना तय है। इस संबंध में पूछे जाने पर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी मीना कुमारी ने बताया कि कुछ दिन पूर्व मेरे स्तर से उक्त विद्यालय का निरीक्षण किया गया था। उक्त समय भी प्रभारी गायब थे। विभाग की ओर से स्पष्टीकरण पूछा गया है। वहीं श्रीमती कुमारी ने बताया कि जल्द ही उक्त प्रभारी पर कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें