Ticker

6/recent/ticker-posts

हमारा प्रयास है हर भारतीय के थाली में बिहारी व्यंजन हो : सीएम

बेनीपट्टी (मधुबनी)। धकजरी से विशेष लगाव के कारण यहां आया हूं, 2009 में भी यहां आया था। काफी अच्छा लगा। सीएम नीतीश कुमार ने शुक्रवार को धकजरी के जगदीश उच्च विद्यालय प्लस टू में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा। सीएम ने धकजरी के हाईस्कूल के मैदान से 70 करोड़ की लागत से निर्मित 40 योजनाओं का उद्घाटन एवं 155 करोड़ की लागत से निर्माण होने वाली योजनाओं का शिलान्यास रिमोट से किया। उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि विकास कार्य हर हाल में पूरा कराया जायेगा। बाढ़ में अगर पूल टूट गये है तो फिर निर्माण कराया जाएगा। सड़क का निर्माण पुनः होगा, विकास के कार्य होते ही रहेंगे। सीएम ने कहा कि मुख्य सड़क का निर्माण होने से लोगों को परेशानी हो रही थी। तो हर घर नली-गली योजना से गांव की सड़को को भी पक्कीकरण कराया जा रहा है। शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। सीएम ने कहा कि स्थिति इतनी खराब थी कि महिलाओं को अंधेरे होने का इंतजार करना पड़ता था। तो शौचालय योजना चालू की। सीएम ने सवाल पूछते हुए कहा कि शौचालय नहीं होने से महिलाओं को काफी परेशानी झेलनी पड़ती थी। खुले में शौच नहीं करने का अपील करते हुए सीएम ने कहा कि खुले में शौच से मुक्ति एवं शुद्ध पानी मिल जाये तो 90 प्रतिशत लोगों की बीमारी दूर हो जाएगी। सीएम ने कहा कि विकास के कार्य को वे नहीं छोड़ रहे है। सड़के चौड़ी भी होगी, सभी कार्य कराये जाएंगे। उन्होंनें कहा कि कृषि के क्षेत्र में विकास के कार्य कराये जा रहे है। बिहार सरकार के द्वारा चार बार कृषि रोड मैप चालू कराये जा चुके है। सीएम ने कहा कि हमारा सपना है कि कृषि से किसानों की आमदनी बढ़ा दी जायें। सीएम ने कहा कि हर भारतीय के थाली में बिहारी व्यंजन हो, ये सपना है। उन्होंने मखाना की विशेष चर्चा करते हुए कहा कि मखाना में इतनी शक्ति है कि ये आसानी से हर थाली में परोसा जा सके। सीएम ने कहा कि सात निश्चय योजना के तहत सभी कार्य कराये जाएंगे। सीएम ने कहा कि महिलाओं की मांग पर ही बिहार में शराबबंदी लागू की गयी। सीएम ने कहा कि अब बिहार की स्थिति बदल गयी है। शराबबंदी से पूर्व की कल्पना कीजिए, समाज में कौलाहल की स्थिति थी। घर में अंशाति थी। सीएम ने उपस्थित लोगों से भी सचेत होने का आह्वान करते हुए कहा कि कुछ लोग शराब की बिक्री में लगे हुए है। ऐसे लोगों से भी सचेत होने की आवश्यकता है। उन्होंनें कहा कि ऐसे लोगों को पकड़वाने के लिए सभी बिजली पोल पर विभाग का मोबाईल नम्बर होगा, जहां फोन कर ऐसे लोगों को पकड़वाया जा सकता है। सीएम ने कहा कि हर महीनें लोक संवाद का कार्यक्रम किया जाता है।जहां एक महिला ने दहेज प्रथा को खत्म करने की बात कहीं। सीएम ने कहा कि उसके बाद सरकार ने निर्णय लिया कि अब दहेज प्रथा को खत्म कराने के लिए आगे आना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब हर जगहों पर शिक्षा को बढ़ावा दिया जा रहा है। गांव की गरीबी को देखते हुए 12वीं कक्षा के आगे पढ़ना चाहेंगे, उनके लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड की व्यवस्था कराई। चार लाख का कर्ज दिया जाएगा। उन्होंने सभी छात्रों को कर्ज से भय नहीं करने के बात कहते हुए कहा कि चिंता मत करिए, आप नहीं कर्ज चुका पायेंगे तो सरकार चुका देगी। सीएम ने सभी लोगों से दहेज प्रथा व बाल विवाह से मुक्त कराने की बात कहीं। उन्होंनें कहा कि आप लोग मन में ठान लें तो ये कुप्रथा खत्म हो जाएगी। ऐसी शादियों में मत शरीक हो, जो शादी में दहेज लेने का काम करते है। धकजरी में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि शादी में बिना दहेज लिखा कार्ड मिला तो संभव होने पर वे उस शादी में भी शामिल होंगे। ये एक सामाजिक अभियान है। इसे हर हाल में सफल बनाएं। इससे पूर्व सीएम को जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक के द्वारा सीएम को बूके देकर सम्मानित किया गया। मौके पर पीएचईडी मंत्री विनोद नारायण झा, मंत्री कपिलदेव कामत, प्रधान सचिव अंजनी कुमार, डीजीपी पीके ठाकुर, आप्त सचिव अतीश चन्द्रा, विनय कुमार, अरविंद चौधरी, विधायक सुधांशू शेखर, पूर्व विधान पार्षद प्रो. विनोद कुमार चौधरी, प्रो. बिनोद सिंह, विधायक गुलजार देवी, संजय झा, पूर्व विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments