Ticker

6/recent/ticker-posts

हादसा के बाद भी नहीं जाग रही प्रशासन,ओवरलोड बसें दौड़ी सड़कों पर

बेनीपट्टी(मधुबनी) कन्हैया मिश्रा : बसैठ के सुंदरपुर स्थित हुए बस हादसा के बाद भी प्रशासन जागने का नाम ही नहीं ले रही है।सोमवार को बेनीपट्टी के बसैठ सुंदरपुर गांव स्थित एसएच-52 पथ के किनारे एक यात्री बस अनियंत्रित होकर पथ किनारे के तालाब में डूब गयी।बस के डूबने से बस में सवार अधिकतर लोग काल के गाल में समा गये।बस हादसा के कारण में अधिकतर लोग बस को ओवरलोड होना बता रहे थें,जिसके कारण साईकिल सवार को बचाने के चक्कर में चालक ने बस का संतुलन खो दिया।इतनी बड़ी त्रासदी होने के बाद भी घटना के अगले दिन बेनीपट्टी मुख्यालय के तमाम सड़कों पर ओवरलोडेड बसों का आवागमन चालू रहा।खासकर बेनीपट्टी से उमगांव को जाने वाली जर्जर सड़क पर भी ओवरलोड बसें चलती देखी गयी।स्थानीय लोगों ने बताया कि प्रशासन अगर ऐसे बस संवाहक पर समय रहते कार्रवाई नहीं की तो सुंदरपुर की घटना फिर से दोहराया जा सकता है।वहीं सुंदरपुर बस हादसे के बाद बीएनएन के सूत्रों के बताया है कि उक्त बस का सीतामढ़ी की परमिट नहीं थी,बावजूद विभागीय लापरवाही के कारण बस सीतामढ़ी तक आवागमन कर रही थी।वहीं दुर्घटनाकारित बस की स्थिति भी काफी खराब देखी गयी।स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन से ऐसे बस चालकों पर कार्रवाई की मांग की है।