ऑटो-बस का भाड़ा निर्धारित नहीं होने से की जा रही मनमाने भाड़ा की उगाही - BNN News

Breaking

4 Sep 2018

ऑटो-बस का भाड़ा निर्धारित नहीं होने से की जा रही मनमाने भाड़ा की उगाही

बेनीपट्टी(मधुबनी)। सड़क दुर्घटनाओं के रोकथाम के लिए सड़क सुरक्षा सप्ताह समेत तमाम प्रशासनिक कवायद बेनीपट्टी मुख्यालय में दम तोड़ रही है। यात्रियों से निर्धारित भाड़ा के नाम पर हो रही गुंडागर्दी, सड़क पर वाहन को जबरन खड़ा कर आम यात्रियों के साथ बदसलूकी के साथ परिवहन विभाग के नियम के खिलाफ अत्यधिक यात्रियों को सवार कर जान से खेलना तो मानो नियमित खेल बन गया है। ऐसे मामलों में दुर्घटना होने पर आक्रोशित लोगों को कोपभाजन अधिकारियों को ही बनना पड़ता है। बावजूद अधिकारी परिवहन विभाग के नियम को धरातल पर उतारने में नाकाम साबित हो रहे है। यात्रियों से मनमाना भाड़ा वसूली किया जा रहा है। यात्रियों के द्वारा सही भाड़ा दिए जाने पर अक्सर तू-तू-मैं-मैं होना आम बात हो गयी है। वहीं कई बार तो चालकों के द्वारा यात्रियों को पीट भी दिया जाता है। बिदेश्वर नाथ झा विकास, रोहित मिश्रा, रंधीर झा समेत कई लोगों ने बताया कि प्रशासनिक लूंजपूंज के कारण जिस चालक को जितना मर्जी होता है, उतना यात्रियों से भाड़ा वसूल किया जाता है। लोगों ने बताया कि प्रशासन को तत्काल इस तरह के वसूली पर रोक लगाने के साथ सरकारी दर तालिका की व्यवस्था कर हर चौक-चौराहों पर बोर्ड लगा देना चाहिए, ताकि वाहन चालक यात्रियों से अधिक राशि वसूल न कर सके।
               बेनीपट्टी में पड़ाव नहीं होने से हो रही समस्या
प्रशासनिक लापरवाही के कारण बेनीपट्टी में ऑटो पड़ाव तो दूर बस पड़ाव का भी निर्माण नहीं हो सका है। स्टैंड नहीं होने के कारण बस-ऑटो चालक के द्वारा सड़क पर ही वाहन को खड़ा कर दिया जाता है। जिससे आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है। वहीं ऑटो चालक के द्वारा बिना साईड लाईट के ही वाहन को टर्न कर दिए जाने से अधिकांश दुर्घटनाएं होती है। वहीं ऑटो चालक के द्वारा बेहटा हाट, लोहिया चौक समेत अन्य चौक-चौराहों पर वाहन को खड़ा किए जाने के कारण जाम की समस्या अत्यधिक होती है। वहीं बसैठ के दुर्गा मंदिर के सामने तो ऑटो करीब सड़क के बीचोबीच लगा दी जाती है।
                 भेंड-बकरी की तरह सवार किए जाते है यात्री
बेनीपट्टी से संचालित तमाम बस-ऑटो में भेंड़-बकरी की तरह यात्रियों को सवार कर जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। बस में जहां छत पर सवार कर यात्रियों को बैठाया जाता है। वहीं ऑटो में मात्र तीन से चार यात्रियों के सवारी किए जाने के प्रावधान के बाद भी ऑटो चालक प्रशासन की आंखो में धूल झोंक कर सात से आठ यात्रियों को बैठाते है। वहीं इससे अधिक यात्री हो जाने पर चालक अपने सीट पर भी यात्रियों को सवार कर लेता है। जो कभी भी बड़ी दुर्घटनाओं को अंजाम दे सकता है। वहीं सूत्रों की माने तो बेनीपट्टी में अधिकांश चालक के पास लाईसेंस तक नहीं है। बिना लाईंसेंस के भी कई चालक सड़को पर फर्राटा मार रहे है। वहीं जानकारों ने बताया कि कई चालक तो बालिग भी नहीं होते है। आम लोगों की माने तो यात्रियों के जान से खिलवाड़ आए दिन किया जा रहा है।
                     जल्द होगी वाहन के भाड़ा को निर्धारण
वाहन चालकों की मनमानी एवं अत्यधिक भाड़ा उगाही के संबंध में पूछे जाने पर अनुमंडल पदाधिकारी मुकेश रंजन ने बताया कि भाड़ा अत्यधिक लेने की जानकारी मिली है। इस तरह की समस्याएं नहीं होनी चाहिए। इसलिए, जिला परिवहन पदाधिकारी से वार्ता कर भाड़ा का निर्धारण कर तालिका दर लटकायी जाएगी। वहीं वाहन चालकों की समस्या को भी निदान किया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें