बेनीपट्टी(मधुबनी)। विधानसभा के चालू सत्र के दौरान पूर्व  मंत्री सह बेनीपट्टी  विधायक श्री विनोद नारायण झा के द्वारा बेनीपट्टी को रेलवे लाईन से जोड़ने की आवाज सदन में उठाने से बेनीपट्टी क्षेत्रों के लोगों के बीच खुशी की लहर दौड़ गयी है । समाजसेवी कमल कुमार झा ने इस कदम का स्वागत करते हुए विधायक विनोद नारायण झा को बधाई देते हुए कहा कि उन्हें पूर्ण विश्वास है कि बेनीपट्टी में रेल लाईन आयेगी ही और उम्मीद है कि बहुत जल्द ही चीरप्रतिक्षित मांग भी पूरा होगा। जब इतिहास लिखा जायेगा तब यहाँ के लोग गौरवान्वित होगें और हर कोई गर्व करेंगें। श्री झा ने कहा कि बेनीपट्टी में रेल लाईन नहीं होने के कारण वर्षो से उदासी व मायूसी छायी हुई है और सरकार के प्रति गहरा आक्रोश व्याप्त है । उन्होंने कहा कि पूर्व रेलमंत्री ललित बाबू मिथिलांचल के विकास के लिए रेल लाईन का जाल बिछाना चाहते थे अपने कार्यकाल में  36 रेल परियोजनाओं सर्वेक्षण की स्वीकृति दी थी, लेकिन मौत के बाद कामकाज की गति धीमी और अधूरी रह गई।

मधुबनी-बेनीपट्टी-पुपरी रेल खण्ड का निर्माण अतिशीघ्र हो। समय और सुरक्षा के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण रेल की सुविधा के लिए लोग लालायित है। वर्ष 1982 में बेनीपट्टी को अनुमंडल का दर्जा मिला ,बेनीपट्टी क्षेत्र के लोगों ने कई जनप्रतिनिधियों को मौका दिया। श्री झा ने कहा कि बेनीपट्टी के साथ किसी भी जनप्रतिनिधियों ने न्याय नहीं किया ,यहाँ की आबादी 25 लाख से अधिक है लेकिन रेल यातायात की सुविधा नहीं है। बेनीपट्टी को रेल सेवा से जोड़ने के लिए सबसे पहले पूर्व रेल मंत्री द्वारा सन 1974 में ही घोषणा की गई थी और वर्ष-1997 में सर्वेक्षण के लिए पूर्व रेल मंत्री द्वारा प्रकाशित पुस्तिका में वर्ष 1997-98 के रेल बजट में नई रेलवे लाईन परियोजनाओं के सर्वेक्षण हेतु स्वीकृति प्रदान की गयी मधुबनी-बेनीपट्टी-पुपरी जनकपुर रोड सीतामढ़ी इत्यादि है। बेनीपट्टी अनुमंडल मुख्यालय रहने के बावजूद अभी भी पिछड़ा हुआ क्षेत्र है। यहाँ रेल लाईन जोड़ने से अनुमंडल का चहुँमुखी विकास संभव हो सकता है, इससे बेरोजगारी व गरीबी दूर होगी।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here


Previous Post Next Post