बेनीपट्टी(मधुबनी)। दरभंगा में प्रस्तावित एम्स के शिलान्यास के लिए मिथिला स्टूडेंट यूनियन का आंदोलन को ग्रामीण इलाकों में भी खूब समर्थन मिल रहा है। शुक्रवार को मिथिलावादी पार्टी के जिलाध्यक्ष विवेक कुमार राय के उपस्थिति में एमएसयू के सेनानियों ने बेनीपट्टी के त्योंथ में "अप्पन ईंटा अप्पन एम्स" के नारे से लोगों से समर्थन मांगी। ग्रामीणों ने भी बड़े उत्साह के साथ एमएसयू सेनानियों को एम्स के निर्माण के लिए घर-घर से ईंट दिया। हर ईंट पर एम्स उकेरा गया था।


विवेक कुमार रॉय व अंकित आजाद ने कहा कि, नागपुर में एम्स की घोषणा 2014 में की, चार वर्ष में निर्माण हो गया। गोरखपुर में 2014 में घोषणा हुई, 2016 में पीएम ने शिलान्यास किया। वहां तीन वर्ष में ओपीडी सेवा शुरू हो गयी, लेकिन, दरभंगा एम्स के लिए आज भी इंतजार किया जा रहा है। इसलिए, एमएसयू ने तय किया है कि अब जनता ही खुद एम्स के शिलान्यास करेगी। आगामी 08 सितंबर को प्रस्तावित जगह पर ईंट से शिलान्यास होगा।


बता दे कि दरभंगा में एम्स की मंजूरी 2020 में मिलने के बाद केंद्रीय टीम ने दरभंगा पहुँच कर निर्माण के लिए 200 एकड़ जमीन को भी चिन्हित कर लिया। उपरांत, उक्त जमीन के भराई के लिए राशि के लिए इंतजार किया गया। जहां बिहार सरकार ने एम्स निर्माण स्थल के मिट्टी भराई के लिए 13 करोड़ 23 लाख 44 हजार रुपये की स्वीकृति प्रदान कर दी।


अब एम्स के लिए एमएसयू का अनोखा आंदोलन चर्चा का विषय बनता जा रहा है। सामाजिक गलियारों से राजनीतिक गलियारों तक इसकी चर्चा हो रही है। 


त्योंथ में एमएसयू के नरेंद्र रॉय, भोगी रॉय, भावेश रॉय, नवोकान्त झा, तियागी दास, अमरेंद्र रॉय, नीरज रॉय आदि लोग मौजूद थे।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here



ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post