Ticker

6/recent/ticker-posts

नाला का निर्माण नहीं होने से बाजार की स्थिति हो रही नारकीय

 


बेनीपट्टी(मधुबनी)। बेनीपट्टी मुख्यालय के स्टेट हाईवे-52 सड़क के दोनों किनारे जलनिकासी के लिए नाला निर्माण नहीं होने के कारण बाजार और अगल-बगल के लोगों के लिए जलनिकासी की समस्या गंभीर बनी हुई है। अनुमंडल गठन के तीन दशक बाद भी सड़क किनारों में नाला का निर्माण नहीं होने के कारण स्थिति ऐसी है कि लोगों द्वारा घरों और होटलों का गंदा पानी स्टेट हाइवे 52 सड़क पर ही बहाया जाता है।


बेनीपट्टी बाजार का सड़क घरों और होटलों का पानी बहाव के कारण हर हमेशा भींगा हुआ दिखाई पड़ता है। फलतः बाइक, साईकिल और लोगों का पांव फिसलने के कारण आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है। जानकारी दें कि कुछ वर्षों पूर्व बेनीपट्टी के विधायक विनोद नारायण झा ने अपने पहले कार्यकाल में तत्कालीन पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने बेनीपट्टी में नाला निर्माण की स्वीकृति दी थी।


तत्पश्चात पथ निर्माण विभाग द्वारा संवेदक बहाल कर बेनीपट्टी बाजार के स्टेट हाइवे 52 सड़क के एक किनारे नाला निर्माण का कार्य तो प्रारंभ कराया गया परंतु वह भी आधा - अधूरा ही रह गया और जलनिकासी की दृष्टिकोण से यह नाला काम का नहीं रह गया। निर्माण कंपनी अधूरा नाला का निर्माण कर अपना सारा सामान समेटकर यहां से चलती बनी। वहीं मिली जानकारी के अनुसार नाला के निर्माण के समय बाजार के चुनिंदा लोगों के द्वारा संबेदक को इस कदर परेशान किया गया कि संबेदक अधूरा कार्य कर ही चला गया। इस दौरान स्थानीय लोग अधूरे नाले में घर का कचरा सामान फेंक कर नाला को अघोषित तौर पर बंद कर दिया। नाला के जाम होने एवं नाला का पूर्ण निर्माण नहीं होने के कारण बारिश के समय में उक्त नाला समस्या की जड़ बन जाती है। कॉपरेटिव बैंक के समीप नाले का पानी निकल कर बाहर सड़कों पर बहने लगता है। जिससे काफी परेशानी होती है। वहीं स्थानीय दुकानदार गंदा पानी के कारण दुकान पर बैठना बंद कर देते है। स्थानीय लोगों ने बताया कि उक्त नाला के निर्माण अनुमंडल मुख्यालय के सामने से संसारी चौक तक किया जाना था। परंतु इस बीच में कई मकान मालिक सड़क की खाली जमीन को कब्जा किये हुए है। जिसे खाली कराने में उक्त समय न तो प्रशासन दिलचस्पी दिखाई न ही कोई राजनीतिक दल के नेता, जिस कारण नाला का निर्माण पूर्ण नहीं हो पाया। 


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here

Post a Comment

0 Comments