Ticker

6/recent/ticker-posts

1977 के बीजेपी कार्यकर्ता का झलका दर्द, गरीबी के बाद भी नहीं मिला कोई सरकारी सुविधा



बेनीपट्टी(मधुबनी)। कहा जाता है कि राजनीति में आने के बाद सब कुछ मिलने लग जाता है। खासकर, अगर कोई पद मिल जाये तो कहना ही क्या। लेकिन, बेनीपट्टी में एक ऐसा भी राजनीतिक दल का नेता है, जो सत्ताधारी दल के होने के बाद भी फटेहाली जिंदगी जीने को बेबस है।


हम बात कर रहे है बेनीपट्टी विधानसभा के करही गांव के कट्टर बीजेपी कार्यकर्ता दिनेश सिंह की, जो वर्षो से गरीबी में दिन काट रहे है। जबकि, इन्होंने जिन नेताओं को मदद किया, आज वो ऊंचे मुकाम पर पहुँच गए है।



दरअसल, दिनेश सिंह का दर्द उस समय लोगों के आंखों के सामने आया, जब उन्होंने अपना हाल सोशल मीडिया पर शेयर किया।

दिनेश सिंह, लिखते है कि वे जेपी आंदोलन से जनता पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता रहे, पूर्व एमपी हुकुमदेव नारायण यादव का पोलिंग एजेंट बने। जब पार्टी की स्थापना हुई, तब से ही साथ रहे। कामेश्वर चौपाल, बालेश्वर सिंह भारती, सुमन महासेठ, घनश्याम ठाकुर के साथ उन्होंने संघर्ष किया। वही श्री सिंह ने लिखा है कि 1999 के अटल सरकार से लेकर 2014 के मोदी सरकार तक हजारों योजना गरीबों के लिए चलाई गई। लेकिन,उन्हें मात्र राशन कार्ड के अलावा कुछ नहीं मिला। वो भी निर्गत 2018 में हुआ, लेकिन मिला उन्हें 2020 में। इंदिरा आवास, पीएम आवास, शौचालय, उज्ज्वला योजना जैसे का कोई लाभ नहीं मिला।



वहीं, उन्होंने हालिया तूफान के कारण गिर गए फुस के मकान का हालात सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए अपना दर्द बयां किया है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here

Post a Comment

0 Comments