बेनीपट्टी(मधुबनी)। बिहार सरकार के जल जीवन हरियाली की मुहिम को वन विभाग फलीभूत करने में जुटी हुई है। विभाग के द्वारा वित्तीय वर्ष-2020-21 में करीब तीन लाख वृक्षारोपन कराये गए है। विभाग अब नए वित्तीय वर्ष के लिए तैयारी कर रही है। ताकि, हर इस महाअभियान को हर हाल में सफल कर सके। वन विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार, वन प्रमंडल के द्वारा दो लाख 86 हजार पौधे बिक्री की गई। हालांकि, औषधीय पौधे की बिक्री काफी कम है, लेकिन, महोगनी, अर्जुन, सफेदा, आंवला, अमरूद, शरीफा आदि के करीब डेढ़ लाख से अधिक पौधे लगाए गए है। वन विभाग की माने तो अब वृक्षारोपन के प्रति लोगों में उत्सुकता जाग गयी है। रेंजर सुधीर कुमार मुकुल ने बताया कि वन प्रमंडल के कर्मी के द्वारा 25 हजार पौधे की बिक्री की गई। जो काफी संतोषजनक है। वही, जल जीवन हरियाली योजना के तहत चलंत वाहन से 1720 पौधे, स्वयं सहायता समूह के द्वारा एक लाख पांच हजार, एसएसबी कैम्प के द्वारा 9630, कृषि वाणिकी योजना के तहत किसानों के माध्यम से 25,100 पौधे, मनरेगा योजना के माध्यम से 60 हजार व नर्सरी के द्वारा 60 हजार पौधे बिक्री की गई। गौरतलब है कि वन प्रमंडल के अंतर्गत अनुमंडल के चारो ब्लॉक सहित जयनगर के बासोपट्टी क्षेत्र भी इसी के अंतर्गत है। रेंजर ने बताया कि वृक्षारोपन पर्यावरण के रक्षा के लिए सबसे कारगर है। जिसे ओर बढ़ावा दिए जाने की जरूरत है। मौके पर फोरेस्टर रामनारायण झा व लिपिक आशीष कुमार भी थे।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post