बेनीपट्टी(मधुबनी)। हरलाखी थाना क्षेत्र में हुई एक नाबालिग मूक बधिर लड़की से गैंगरेप कर आंख फोड़ने वाली घटना मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। एसडीपीओ अरुण कुमार सिंह ने बताया की गिरफ्तार तीनों व्यक्तियों ने सामूहिक रुप से दुष्कर्म किया और घटना को अंजाम दिया। पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि मामले में पुलिस जल्द कार्रवाई के लिए स्पीडी ट्रायल कराएगी। एसडीपीओ ने कहा कि घटना की जानकारी मिलते ही एसपी के निर्देश पर देर शाम ही एसआईटी बना दी गई थी। जिसकी कमान सर्किंल इंस्पेक्टर राजेश कुमार को बनाया गया। 

वहीं टीम में हरलाखी एसएचओ प्रेमलाल पासवान, खिरहर के एसएचओ अंजेश कुमार, साहरघाट एसएचओ सुरेन्द्र पासवान व एसआई धर्मेंन्द्र कुमार को शामिल किया गया। टीम की तत्परता से अलग-अलग जगहों से तीनों आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। एसडीपीओ ने कहा कि घटना स्थल से शराब का खाली बोतल भी मिली है। जिससे प्रतित होता है कि आरोपियों ने शराब पीकर घटना को अंजाम दिया और नुकीली लकड़ी से दिव्यांग की आंख फोड़ दी। पुलिस ने बताया कि तीनों आरोपी पीड़िता के गांव के ही है। जिनका पहचान लक्ष्मी मुखिया, कृष्णा मुखिया व लक्ष्मीपुर के रामअवतार मुखिया के रुप में बताए गए हैं। 

उधर घटना की वैज्ञानिक जांच के लिए एफएसएल मुजफ्फरपुर से सहायक निदेशिका अंबालिका त्रिपाठी की तीन सदस्यीय टीम हरलाखी थाना पर पहुंची जहां एसडीपीओ अरुण कुमार सिंह से घटना के बारे में जानकारी प्राप्त करने के बाद पुलिस के द्वारा जब्त नुकीली लकड़ी जिससे मूक बधिर लड़की की दोनों आंखें फोड़ दी गई थी समेत अन्य सामग्रियों को वैज्ञानिक जांच की व उसके बाद घटने स्थल पर पहुंच वैज्ञानिक अनुसंधान किया।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here


ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post