बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर महागठबंधन ने सीटों के बंटवारा पर अंतिम फैसला ले लिया है. 2020 के विधानसभा चुनाव में आरजेडी, कांग्रेस, वाम दल और वीआईपी पार्टी साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी. महागठबंधन में महामंथन के बाद जो फैसला हुआ है वह यह है.

राजद - 144

कांग्रेस - 70 (एक लोकसभा सीट)

सीपीआई (माले) - 19 

सीपीएम  - 4 

सीपीआई - 6

वीआईपी, और जेएमएम को राजद खाते में से मिलेगी सीटें

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान 
कांग्रेस स्क्रीनिंग कमिटी अध्यक्ष अविनाश पांडे ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार को सोशलिस्ट नेता के रूप में सम्मान मिला. अब नीतीश को एक लाचार नेता के रूप में प्रदेश के लोग देख रहे है. बिहार में सबसे ज्यादा बेरोजगारी और गरीबी है. आगे अविनाश पांडे ने यह साफ़ कर दिया कि महागठबंधन के बड़े दल के रूप में आरजेडी नेतृत्व करेगी. तेजस्वी यादव गठबंधन का नेतृत्व करेंगे.

तेजस्वी यादव ने महागठबंधन में शामिल सभी दलों के नेताओं के साथ कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी, राहुल गाँधी, प्रियंका गाँधी, डी राजा, सीताराम येचुरी का नाम लेते हुए कहा कि सभी दलों ने मेरे नेतृत्व को आगे बढ़ाया है इसके लिए सभी धन्यवाद और आभार. हम सभी जाति व धर्म के लोगों को एक साथ लेकर चलेंगे. प्रेस कांफ्रेंस के दौरान जिन नेताओं ने भी मीडिया को संबोधित किया सभी ने लॉकडाउन के दौरान लोगों को हुई परेशानियों का खूब जिक्र किया. तेजस्वी ने आगे कहा कि वह ठेठ बिहारी हैं, और ठेठ बिहारी जो कहता है वह करता है. साथ ही मेरा डीएनए भी सही है. तेजस्वी ने इस दौरान अपने वादों का भी जिक्र किया, रोजगार के अवसरों को कैसे महागठबंधन की सरकार कैसे लेकर आएगी इसका भी तेजस्वी ने जिक्र किया. 

इस दौरान 
प्रेस कांफ्रेंस में राजद, कांग्रेस, वीआईपी सहित वाम दलों के कई बड़े नेता मौजूद रहे. 


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post