बिहार में महागठबंधन के सीटों के एलान होने के साथ ही उसी मंच पर विद्रोह हो गया. वीआईपी के अध्यक्ष मुकेश साहनी ने तेजस्वी के खिलाफ बिगुल फूंक दिया. आज शाम आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में सीटों के आंकड़ों के एलान के बाद राजद के राज्यसभा सांसद व प्रवक्ता मनोज झा ने मुकेश साहनी को माइक दिया. लेकिन तुरंत बाद मुकेश सहनी के समर्थकों ने नारा लगाना शुरू कर दिया.

मुकेश सहनी के समर्थक जमकर महागठबंधन मुर्दाबाद के नारे लागा रहे थे, इसी बीच भीड़ से जब मुकेश सहनी मीडिया के तरफ आये तो उन्होंने भी समर्थकों के नारों के साथ अपना स्वर मिला दिया. मुकेश सहनी ने कहा कि आज भर दिन तेजस्वी यादव के साथ था. वादों के अनुसार 25 सीट और उप-मुख्यमंत्री बनाने की बात थी और आज सीटों का एलान भी नहींकिया. तेजस्वी ने धोखा नहीं, बल्कि पीठ में खंजर घोंपने का काम किया है. इनका डीएनए गड़बड़ है.

बता दें कि मगठबंधन के लिए ही यह बड़ा झटका है, बिहार के महागठबंधन के चुनावी इतिहास में आज तक ऐसा नहीं हुआ था कि किसी गठबंधन के सहयोगी दल ने भरी सभी में विद्रोह किया हो.  महागठबंधन जहां एकतरफ एकजुट होने का वादा कर रही थी लेकिन इस विद्रोह ने महागठबंधन के वादों को झूठा साबित कर दिया है.

तेजस्वी यादव एलान कर रहे थे कि वे NDA का धुंआ उड़ा देंगे लेकिन वह खुद अपने गठबंधन को संभाल नहीं पाए. मुकेश साहनी ने अपने भाषण में कहा कि मैं मुकेश साहनी सन ऑफ मल्लाह, गरीब अतिपिछड़ा का बेटा हूँ. अभी जो भी हो रहा है हमारे साथ, कहीं न कहीं मेरे पीठ में छुड़ा घोंपने का काम किया जा रहा है. इतना कहते हुए मुकेश साहनी हॉल छोड़कर बाहर निकल गए.


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post