Ticker

6/recent/ticker-posts

उच्चैठ माध्यमिक विद्यालय के भवन निर्माण में घोर अनियमितता

 


बेनीपट्टी(मधुबनी)। बेनीपट्टी के उच्चैठ में निर्मित माध्यमिक स्कूल के वर्ग कक्ष के निर्माण में भारी अनियमितता की गई है। बावजूद, गत 24 अगस्त को इस भवन का बिना जांच के ही उद्घाटन करा दिया गया। जानकारी के अनुसार 24 लाख 13 हजार 6 सौ रूपए की लागत से वर्ग नवम के संचालन के लिए भवन निर्माण कराया गया है। जिसमें व्यापक पैमाने पर गड़बड़ी की गयी है। जिसका जीता जागता उदाहरण विद्यालय भवन का छत है। बताया जा रहा है कि ढ़लाई के बाद से ही समतल नही रहने के कारण वर्षा होने पर छत पर पानी लग जाता था, जो अनियमितता को दर्शाता है। भवन निर्माण के लिए राशि भेज दिये जाने के बाद भी एचएम द्वारा कोताही बरतने के कारण उन्हें डीईओ के अनुशंसा पर डीपीओ ने निलंबित कर दिया है। विद्यालय के भवन निर्माण में  अनियमिता तो बरती ही गयी है, यहां तक लापरवाही भी बरती गयी है। विद्यालय में एक स्वीच से पांच पंखे का कनेक्शन दिया गया है, जो कभी भी खतरनाक साबित हो सकता है। भवन के अन्य भाग क्रमशः दीवाल, सीढ़ी, कमरे में किया गया प्लास्टर अभी से ही उखड़ने लगा है। जबकि छत के समतल नही रहने के कारण दोबारा किये जा रहे प्लास्टर में बालू से छानकर निकाले गये छोटे छोटे गिट्टी का प्रयोग किया गया है। इतना ही नही बल्कि चापाकल गाड़ने और शौचालय निर्माण भी स्टीमेट के अनुसार नही किया गया है। अब सोचने वाली बात यह है कि जब विद्यालय में घोर अनियमितता बरती गयी है, तो फिर बिना गुणवत्ता का ख्याल किये बगैर उदघाटन कैसे कर दिया गया। इस बात से स्थानीय लोगों में भी विभाग, पदाधिकारी तथा वि़द्यालय प्रबंधन के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है। वही इस संबंध में विद्यालय के निलंबित एचएम विन्देश्वर मोची द्वारा बताया गया कि निर्माण कार्य हमने नही करवाया, बल्कि स्वयं विभागीय जेई भोला सिंह अपने उपस्थिति में करायें है। प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी अरविंद कुमार ने बताया कि निर्माण कार्य में अनियमितता के कारण ही उक्त एचएम को निलंबित किया गया है।

Post a Comment

0 Comments