बेनीपट्टी(मधुबनी)। अंचल प्रशासन के निष्क्रियता से बाजार में अतिक्रमण का खेल जमकर हो रहा है। लोहिया चौक से लेकर बेहटा हाट तक पूरे बाजार में अतिक्रमण का भयावह चेहरा बन चुका है। स्टेट हाईवे-52 के किनारे में अवैध रुप से कब्जा कर लोग अतिक्रमण कर चुके है। वहीं अस्थाई ऑटो स्टैंड व ठेला चालक के द्वारा सड़क पर कब्जा कर लिए जाने के कारण लोगों को आवाजाही की संकट हो गयी है। कड़े धूप में लोगों को जाम से जूझना पड़ रहा है। विद्यापति चौक के समीप आपातकालीन प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के साथ मुख्य पथ पर दर्जनों नर्सिंग होम संचालित है। जिससे पथ का महत्व सहज समझा जा सकता है। बावजूद, अंचल प्रशासन अतिक्रमण को खत्म करने के प्रति सकारात्मक पहल नहीं कर रही है। पूर्व सीओ के कार्यकाल में करीब चौरासी लोगों को चिन्ह्ति कर नोटिस दी गयी थी। उक्त सीओ के तबादले होते ही अतिक्रमणकारी बेखौफ होकर सड़क के भूमि का कब्जा कर अस्थाई रुप से दुकान संचालित करने में जुट गए है। अतिक्रमणकारियों को पुलिस से भी कोई भय नहीं है। जिसके कारण पुलिस इंस्पेक्टर के कार्यालय के दोनों भाग के साथ थाना के दक्षिणी भाग में ठेला चालकों के द्वारा बांस-बल्ला लगा कर दुकान खोल दिया गया है। उक्त भूमि पर पूर्व एसडीपीओ निर्मला कुमारी के द्वारा साफ-सफाई करा कर मिट्टीकरण कराई गयी थी। उक्त भूखंड पर वृक्षारोपण तक किया गया था। जो अतिक्रमणकारियों के भेंट चढ़ गया। आम लोगों की माने तो प्रशासन के लापरवाही से बाजार में निकलना मुश्किल हो गया है। हर चौक-चौराहा पर आये दिन जाम की समस्या से लोगों को जूझना पड़ रहा है। गौरतलब है कि बेनीपट्टी में अतिक्रमण के कारण लग रहे जाम की शिकायत किए जाने पर जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने वर्तमान सीओ व एसएचओ को बेहटा में पुलिस फोर्स की तैनाती किए जाने एवं अतिक्रमणकारियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिये थे। डीएम के निर्देश के बावजूद स्थानीय अधिकारी मूकदर्शक बने हुए है। जिसका खामियाजा स्थानीय लोगों को भुगतना पड़ रहा है। बता दें कि गत पांच वर्ष पूर्व आईएएस एसडीएम राजेश मीणा ने जांबाजी का परिचय देते हुए स्थानीय जनप्रतिनिधि व राजनीतिक दल के नेताओं के साथ समनव्य स्थापित कर पूरे बाजार को अतिक्रमणमुक्त करा दिया था। उनके कार्यकाल में अतिक्रमणकारी गायब ही नजर आये, लेकिन उनके तबादला के साथ ही पूरे बाजार में अतिक्रमण का खेल किया गया। इस संबंध में एसडीएम मुकेश रंजन ने बताया कि अतिक्रमण के खिलाफ जल्द ही कार्रवाई की जाएगी। बेहटा हाट पर लग रहे जाम के संबंध में एसएचओ व सीओ को पुनः निर्देशित किए जाएंगे।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post