बेनीपट्टी(मधुबनी)। ग्रामीण कार्य विभाग के अनुरक्षण नीति के तहत 46 सड़कों की सूरत बदलेगी। इन सड़कों के सूरत बदलने से लोगों को आवाजाही के साथ दुर्घटना की समस्या खत्म होने की उम्मीद है। ग्रामीण कार्य विभाग, बेनीपट्टी डिविजन के द्वारा इन सड़कों की स्थलीय जांच कर अधीक्षण अभियंता से निरीक्षण करा विभाग को मंजूरी के लिए भेज दिया गया है। कार्यपालक अभियंता अनिल कुमार ने उक्त फाईल को मंजूरी के लिए नोड्ल अधिकारी अमरेन्द्र कुमार सिन्हा को सौंप दी है। मिली जानकारी के अनुसार ग्रामीण कार्य विभाग ने अनुरक्षण नीति-2018 के तहत बेनीपट्टी में बीस सड़क, बिस्फी में ग्यारह सड़क व मधवापुर में करीब सात व हरलाखी प्रखंड में करीब सात सड़कों की सूरत इस योजना से बदलेगी। बता दें कि बेनीपट्टी में वर्षो से मांग हो रही इंदिरा चौक से कटैया मोड़ की सड़क की भी सूरत बदलेगी। करीब एक करोड़ की राशि से एक किमी सड़क का निर्माण होगा। वहीं स्टेट हाईवे-52 से लरुगामा जाने वाली सड़क, उच्चैठ से सोहरौल करीब चार किमी सड़क, लोहा से धकजरी के बारह किमी, अरेर से नगवास करीब नौ किमी, विशनपुर चौक(अरेर) से ईटहर-परसौनी का निर्माण 32 लाख से प्रस्तावित किया गया है। बनकट्टा से गंगूली करीब ढाई किमी, दरभंगा बॉर्डर से शिवनगर-शाहपुर करीब ढाई किमी सड़क, शिवनगर से माधोपुर उसराही सड़क, लोहा-परौल से झौंझी की सड़क, परौल से घुसकीपट्टी, एसएच-52 पथ से अधूरे सड़क सहित बैंगरा तक सड़क का निर्माण, सतलखा (अरेड़) से रघेपुरा की सड़क, चहुंटा से साहदुल्लापुर, बनांठपुर से नंदीभौउजी चौक की सड़क, बैंगरा से पोखरौनी की सड़क, उच्चैठ से पोखरौनी, गंगूली से तिसी, करही (नवकरही) से बकुलवा, स्टेट हाईवे-52 से प्रखंड मुख्यालय की सड़क, बिस्फी प्रखंड चौक से भगौती दलित बस्ती तक, बेनीपट्टी-बरहा सड़क, विशनपुर चौक से नवकरही-जमुआरी के गुलाब चौधरी के घर तक, बेनीपट्टी के भरारी तालाब से उच्चैठ कालिदास डीह तक, एसएच-52 से शाहपुर, लरुगामा से भगवतीपुर, सरिसब से टी-जीरो टू, बिस्फी-नरसाम रोड, स्टेट हाईवे से मढिया, बिस्फी के रमुनिया से पोखर टोल, स्टेट हाईवे से छपरिया, हरलाखी के गोपालपुर से कमतौल, बोरहर से सिम्हा टोल, सेंट्रल चौक से मध्य विद्यालय, पासी टोल, झिटकी से सुखवासी, साहरघाट टू बोरहर, सोनई होते हुए, हटवरिया से महादेवपट्टी, सिसौनी से स्टेट हाईवे सड़क, लोमा चौक से लोमा गांव तक, अकहा से डीकेबीएम पथ तक, टी-जीरो-01 से महुआ, साहरघाट से महुआ की सड़कों का निर्माण कार्य अनुरक्षण नीति से कराने के लिए विभाग ने ग्रामीण कार्य विभाग के नोड्ल अधिकारी को प्रस्ताव समर्पित किया है। ग्रामीण कार्य विभाग के कार्यपालक अभियंता अनिल कुमार ने बताया कि विभाग सभी गांव को मुख्य सड़क से जोडने के लक्ष्य निर्धारण कर कार्य कर रही है। विभागीय मंजूरी मिलते ही सभी कार्यो को प्रारंभ कराया जाएगा।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post