बेनीपट्टी(मधुबनी)। पर्यावरण को सुरक्षित करने के लिए जहां केन्द्र व राज्य सरकार वृक्षारोपण को बढ़ावा दे रही है, वहीं मधवापुर के आरएनजे इंटर कॉलेज परिसर में वर्षो से लहलहा रहे दर्जनों हरे वृक्ष को प्रधानाचार्य ने कटा दिए है। जिससे आम जनों में रोष व्याप्त है। प्रधानाचार्य के तुगलकी फरमान के बाद परिसर में लगे दर्जनों वृक्ष को जेसीबी से काट कर जमींदोज कर दिया गया। दर्जनों वृक्ष के असमय जमींदोज हो जाने के कारण पूरा कॉलेज परिसर सुनसान हो गया है। परिसर में वृक्ष होने से एक और जहां बढ़ रहे प्रदूषण के प्रभाव को कम करने का काम कर रही थी, वहीं गर्मी में परीक्षा देने आए छात्रों के लिए छांव में बैठने का आनंद दे रहा था। प्रधानाचार्य के इस फरमान से कॉलेज के कर्मी भी अंदरखाने नाराज है। कर्मियों ने नाम नहीं बताते के शर्त पर बताया कि प्रधानाचार्य कॉलेज में मनमानी कर रहे है। सारे फैसले स्वयं कर रहे है।
        1980 में कॉलेज के पूर्व सचिव ने लगवाए थे दर्जनों पेड़
मधवापुर के आरएनजे इंटर कॉलेज में र्प्यावरण को संतुलित व हरियाली को बढ़ावा देने के लिए वर्ष 1980 में कॉलेज के पूर्व सचिव सह कांग्रेस के विधायक रहे स्व. युगेश्वर झा के पहल पर लगवाए गए थे। बताया जा रहा है कि पूर्व सचिव के देखरेख में ही सभी वृक्ष लगाए गए थे। जिसमें नारियल, गुलमोहर, अलमतास, शिशम, बबूल सहित कई अन्य लकड़ीदार वृक्ष लगाए गए थे। स्थानीय लोगों ने बताया कि कॉलेज को हरा-भरा रखने के लिए गत पंचवर्षीय में मनरेगा योजना से भी आम के वृक्ष लगाये गए थे। वृक्षारोपण करने के उपरांत माली की व्यवस्था कर पटवन की भी व्यवस्था की गयी थी। ऐसी स्थिति में वृक्षारोपण कराए जाने से क्या लाभ?
          नब्बे के दशक के बाद कॉलेज की पढ़ाई भगवान भरोसे

मधवापुर का राम निरंजन जनता इंटर कॉलेज में करीब दो दशकों से शिक्षा व्यवस्था संतोषप्रद नहीं है। स्थानीय लोगों की माने तो कॉलेज सिर्फ नामांकन और प्रवेश पत्र के साथ अन्य कार्यो तक ही सिमट कर रह गया है। इस बाबत पूछने पर प्रभारी प्रधानाचार्य प्रो कृष्ण कुमार साह ने बताया कि कॉलेज में फर्नीचर की कमी है। और पुराने बेंच डेस्क आदि की मरम्मत करानी है। इसलिए सभी कर्मियों से राय लेने के बाद पेड़ों को उखड़वाया गया है। इससे जहां, भवन के अगल बगल का जंगल साफ हो गया है। वहीं, परिसर अब साफ सुथरा लग रहा है। साथ ही फर्नीचर की मरम्मत हो जाने से परीक्षा के दौरान छात्रों को नीचे नहीं बैठना पड़ेगा। बताते चलें कि पेड़ काटने की सूचना कॉलेज के प्राध्यापक प्रो अमरेश श्रीवास्तव द्वारा मधवापुर के सीओ व एसडीएम को मोबाईल से सूचित कर दी है। मधवापुर के सीओ सुधीर कुमार ने बताया कि कॉलेज में हरा वृक्ष काटे जाने की सूचना मिली है। राजस्व कर्मचारी को कॉलेज पर भेजकर वस्तुस्थिति से अवगत कराने का निर्देश दिया गया है। रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद वरीय अधिकारी से बात कर कानूनी काररवाई की जाएगी।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post