बेनीपट्टी(मधुबनी)। मुख्यालय के डा. एनसी कॉलेज परिसर में रविवार को ब्राह्मण महासभा व परशुराम सेवा संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में जिला स्तरीय सम्मेलन का आयोजन किया गया। आयोजन की विधिवत् शुरुआत गोसाउनिक गीत से किया गया। उपरांत उपस्थित विद्वतजनों ने दीप प्रज्जवलित कर सम्मेलन की शुरुआत की। सम्मेलन में प्रदेश अध्यक्ष ईं. आशुतोष झा ने कहा कि सवर्ण पर अत्याचार हो रहा है। सवर्णों के अधिकार में लगातार कटौती की जा रही है। जो बर्दास्त योग्य नहीं है। सदन में जितने भी सवर्ण विधायक व सांसद है, सभी चुप्पी साधे हुए है। इसलिए आगामी 14 सितंबर को सभी सवर्ण विधायक व सांसद के सरकारी आवास पर तालाबंदी कर विरोध किया जाएगा। श्री झा ने कहा कि जब सवर्ण जनप्रतिनिधि सवर्ण के हित की बात को सदन तक नहीं पहुंचा रहे है तो फिर क्यूं सदन में बैठे हुए है। सभी सवर्ण नेताओं से इस्तीफा दिए जाने की मांग की जाएगी। ई आशुतोष झा ने बताया कि ये कैसा कानून है, जहां बिना जांच किए ही जेल भेजा जाएगा। एससी/एसटी कानून का कोई भी विरोध नहीं कर रहा है। सुरक्षा के लिए कानून होना चाहिए, लेकिन ये कैसा कानून है, जहां प्राथमिकी दर्ज होते ही आरोपी को जेल भेज दिया जाएगा। इसलिए, इसे बदलने की आवश्यकता है। वहीं राजनीतिक दलों के द्वारा ब्राह्मणों को दस/पंद्रह प्रतिशत आरक्षण दिए जाने की मांग पर आक्रोश प्रकट करते हुए कहा कि सवर्ण जाति अपना अधिकार मांग रहे है। कोई भीख नहीं । इसलिए आरक्षण का स्वरुप आर्थिक आधार पर होना चाहिए। वहीं सम्मेलन को कामेश्वर झा, मदन झा, ललित झा, खोनेन्द्र झा, सुधाकांत पाठक, बैधनाथ झा, उदयकांत मिश्र, अभिराम झा, सुरज शोभराज, डा.मंगलानंद मिश्र, इन्द्रकांत झा, अशोक चौधरी, मीनू पाठक, राजेन्द्र मिश्र, प्रो. ब्रह्मकांत झा समेत कई लोगों ने अपने-अपने विचार प्रकट किए।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post