बेनीपट्टी(मधुबनी)। बेनीपट्टी के सुदूर इलाको में स्वास्थ्य व्यवस्था बेपटरी हो गयी है। कही दवा की किल्लत तो कही चिकित्सक के समय से नहीं उपस्थित होने की समस्या। बावजूद स्वास्थ्य विभाग मरीजो के हित के लिए समस्याओं को दूर करने में अब तक विफल साबित हो रही है। बेनीपट्टी के नागदह गांव में संचालित स्वास्थ्य केंद्र विभाग के लापरवाही के कारण बदहाली के दौर से गुजर रही है। बदहाली का अंदाज इसी से लगाया जा सकता है कि केंद्र पर दवा व चिकित्सक के उपलब्ध होने के जगह केंद्र के परिसर बिजली उपकरण रखा हुआ है। ग्रामीणों ने बताया कि इस गांव में केंद्र के स्थापना के लिए ग्रामीण महाकान्त झा ने भूमि दान की थी। वर्ष-2009 में केंद्र की स्थापना की गई। केंद्र के स्थापित होने के करीब तीन-चार महीने तक एएनएम व चिकित्सक मरीजो को देख दवा मुहैया कराते थे। लेकिन, उसके बाद केंद्र बदहाली की ओर जाने लगी। बता दे कि केंद्र की नियमित साफ-सफाई नहीं होने के कारण केंद्र के अगल-बगल जंगली पेड़-पौधा उग आए है। उधर नागदह के एमएसयू पंचायत अध्यक्ष ने इस स्वास्थ्य केंद्र को पुनर्जीवित के लिए सीएस को पत्र भेजकर पहल करने की मांग की है। एमएसयू के पंचायत अध्यक्ष ने बताया कि जल्द ही स्वास्थ्य केन्द्र की बदहाली दूर नहीं की गई तो चरणबद्ध तरीके से आन्दोलन किया जाएगा। गौरतलब है कि नागदह के स्वास्थ्य केन्द्र की बदहाली का आलम ये है कि प्रतिनियुक्त एएनएम सप्ताह में एक-दो बार आकर हाजिरी बनाकर खानापूर्ति कर रही है। जिससे पंचायत के लोगों की समस्या लगातार बढ़ती ही जा रही है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post