Ticker

6/recent/ticker-posts

बसैठ उच्च विद्यालय के भवन निर्माण को लेकर एमएसयू ने बीआरसी का किया घेराव

बेनीपट्टी(मधुबनी)। मिथिला स्टूडेंट यूनियन (एमएसयू) के सदस्यों ने गुरुवार को प्रखंड संसाधन केन्द्र का घेराव कर बीआरसी में तालाबंदी कर दी। सदस्यों ने बीआरसी कार्यालय के मुख्य द्वार को बंद कर एमएसयू के प्रखंड अध्यक्ष आशीष झा चुन्नू के अध्यक्षता में आयोजित धरना कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रखंड अध्यक्ष ने कहा कि बसैठ उच्च विद्यालय के पास भवन नहीं होने के कारण पश्चिमी क्षेत्र के छात्रों को उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं हो रही है। छात्र कमरा के अभाव के कारण पढ़ाई से वंचित हो रहे है। मैदान में खुले में बैठा कर स्कूल प्रबंधन के द्वारा परीक्षा ली जाती है। जिससे छात्रों को काफी परेशानी हो रही है। विभागीय अधिकारी व जनप्रतिनिधियों के नाकामी के कारण छात्रों को भविष्य चौपट हो रहा है। सरकार युवाओं की बात कर रही है, लेकिन छात्रों के भविष्य के लिए स्कूल भवन का निर्माण नहीं करा रही है। वहीं संगठन मंत्री रंधीर झा ने कहा कि ये कैसी विडंबना है कि सरकारी स्कूलों के भवन की मरम्मत के लिए एमएसयू को भिक्षाटन करना पड़ा। श्री झा ने कहा कि दो माह पूर्व स्कूल की बद्तर स्थिति को देख बसैठ अध्यक्ष राजा चौधरी के नेतृत्व में पूरे बाजार में भिक्षाटन कर जर्जर स्कूल के कमरों का मरम्मत कराया गया। भिक्षाटन देने के लिए भी कोई जनप्रतिनिधि सामने नहीं आया। जबकि विकास के सभी जनप्रतिनिधि बड़े-बड़े दावें कर रहे है। वहीं रोहित झा ने कहा कि बीईओ के कार्यालय कर्मियों के मिलीभगत से प्रखंड के स्कूला में भ्रष्टाचार किया जा रहा है। प्रखंड के महमदपुर व नवकरही मध्य विद्यालय में प्रभारी एचएम के द्वारा अनियमितता की जा रही है। एमडीएम की राशि गटकने के लिए छात्रों की फर्जी उपस्थिति बनाई जा रही है। जबकि इस स्कूल की बद्तर स्थिति के कारण छात्रों की संख्या लगातार कम आ रही है। वहीं एमएसयू सदस्यों ने इस अनियमितता किए जाने के लिए बीईओ को भी जिम्मेदार बताते हुए आगामी पंद्रह दिनों के अंदर कनिय शिक्षक से प्रभार लेकर वरीय शिक्षक को प्रभार दिलाने की मांग की है। वहीं मांग पर यथोचित कार्रवाई नहीं होने पर चरणबद्ध तरीके से आन्दोलन किए जाने की बात कही है। धरना के दौरान एमएसयू सेनानियों ने प्रखंड के शिक्षा व्यवस्था लचर होने पर बीईओ व शिक्षा विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

Post a comment

0 Comments