सात निश्चय योजना में मची है लूटखसोट, प्रशासन बना मूकदर्शक - BNN News

Breaking

27 Apr 2018

सात निश्चय योजना में मची है लूटखसोट, प्रशासन बना मूकदर्शक

बेनीपट्टी(मधुबनी)। मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत वार्ड स्तर पर कराए जा रहे कार्य में भारी अनियमितता की जा रही है। वार्ड सदस्यों की अनभिज्ञता के कारण संबेदक की ओर से लूटखसोट की जा रही है। घटिया स्तर के पाईप व मोटर लगा कर लूट की जा रही है। जानकारी दें कि मिट्टी के अंदरुनी भागों में अधिष्ठापन करने वाले यंत्र में भारी लूट की जा रही है। सूत्रों की माने तो अधिकांश पंचायतों में कम वाट का मोटर बोरिंग से पानी सप्लाई के लिए की जा रही है। वहीं उक्त मोटर पर अधिक वार्ड के लोगों की नल से पानी आपूर्ति करने का भार दिया जा रहा है। जिसके कारण योजना को पलीता लगना तय माना जा रहा है। बेहटा पंचायत के वार्ड न0-11 में नल का जल योजना के तहत बोरिंग अधिष्ठापित की गई। लेकिन उक्त बोरिंग से पानी की आपूर्ति नहीं होने के कारण योजना लटक गया। सूत्रों की माने तो उक्त योजना में भी भारी अनियमितता की गई थी। हालांकि पंचायत प्रतिनिधि ने बताया कि उक्त योजना की फलीभूत नहीं होने के कारण भुगतान नहीं किया गया है। जानकारी दें कि उक्त योजना के तहत करीब 12 लाख की राशि से हर घर नल का जल योजना को धरातल पर उतारना था। सूत्रों की माने तो सीएम सात निश्चय योजना के तहत प्रखंड के करीब दर्जनों पंचायत में योजना संचालित कराई जा रही है। जहां निगरानी के लिए प्रखंड प्रशासन ने सभी पंचायत के लिए पदाधिकारी को नियुक्त कर दिया है। लेकिन अधिकारियों के अनुपस्थित व मेलमिलाप के कारण योजना में लूट की जा रही है। वार्ड महासंघ के जिलाध्यक्ष राजकुमार झा उर्फ राजू ने बताया कि सात निश्चय योजना की पूर्ण जांच होनी चाहिए। वहीं श्री झा ने कहा कि योजनाओं की सतत निगरानी नहीं किए जाने के कारण योजना सफल नहीं हो रहा है। स्थिति इस कदर खराब है कि कोई भी योजना अधिक दिनों तक सफल नहीं हो पाएगी। इस संबंध में पूछे जाने पर बीडीओ डा. अभय कुमार ने बताया कि योजना में अनियमितता की शिकायत मिली तो जांच कर दोषी पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें