मरम्मत हो रहे महराजी बांध में हो रही अनियमितता - BNN News

Latest

29 Apr 2018

मरम्मत हो रहे महराजी बांध में हो रही अनियमितता

बेनीपट्टी(मधुबनी)। करीब सवा तीन करोड़ की राशि से बेनीपट्टी के करहारा व रानीपुर गांव में महाराजी बांध की मरम्मति कराई जा रही है। बांध मरम्मत में संबेदक की ओर से खुल कर अनियमितता की जा रही है। बांध पर लोकल नदी का बालू युक्त मिट्टी बिछाई जा रही है। वहीं बांध पर कम मात्रा में सरकारी जमीन से मिट्टी काटकर दी जा रही है। बांध मरम्मत में खानापूर्ति किए जाने से ग्रामीणों में आक्रोश पनप रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि बांध पर जिस प्रकार की मिट्टी डालने में अनियमितता की जा रही है। वैसी स्थिति में बाढ़ का हल्का दवाब पड़ते ही बांध का टूटना तय है। वहीं कुछ ग्रामीणों ने बांध पर डाले जा रहे मिट्टी के तह को हटाते हुए कहा कि बांध पर पर्याप्त मात्रा में मिट्टी नहीं दी जा रही है। वहीं मिट्टी समतल नहीं किए जाने से भी बांध के भविष्य पर सवाल उठ रहा है। वहीं जानकारी के अनुसार करहारा में धौंस नदी के किनारे से बालू युक्त मिट्टी डाल देने से ग्रामीणों में ओर नाराजगी देखी जा रही है। गौरतलब है कि प्रखंड के सर्वाधिक बाढ़ग्रस्त पंचायत के करहारा पंचायत पूरे तौर पर नदी के किनारे बसा हुआ है। जहां हर बार नदी में अत्यधिक पानी आ जाने पर बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। ऐसी स्थिति में प्रशासन भी करहारा तक आसानी से नहीं पहुंच पाती है। जिससे विकट स्थिति का अंदाजा लगाया जा सकता है। गत छह माह पूर्व आए बाढ़ में भी कई जगहों पर बांध ध्वस्त हो गया है। जिससे बाढ़ की स्थिति अनियंत्रित हो गई थी। बाढ़ की विकट स्थिति को देख बांध की मरम्मत कराई जा रही है। पंचायत के सरपंच पति मो. गनी, भोगेन्द्र मंडल, नकी अहमद, मो. सौहेल सहित कई लोगों ने बताया कि बांध मरम्मत के नाम पर सरकारी राशि की लूट की जा रही है। अधिकारियों को कई बार शिकायत की गई, लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है। बता दें कि बांध मरम्मत के प्रति लापरवाही बरतने पर ग्रामीण कब आन्दोलन का रुख पकड़ लेंगे, कह पाना मुश्किल है। उधर बांध के मरम्मत में बरती जा रही अनियमितता की शिकायत पर भ्रमण करने के दौरान संबेदक की ओर से सरकारी भूमि से मिट्टी काटे जाने की बात भी सामने आयी। इस संबंध में संबेदक चेतक सिंह से मोबाईल पर पक्ष लिया गया तो उन्होंनें बताया कि बांध में जहां भी शिकायत होगी, दुरुस्त करा दिया जाएगा। बांध के लेबल करने के लिए मशीन उपलब्ध नहीं थी। मशीन उपलब्ध करा दी गई है। वहीं एसडीएम मुकेश रंजन ने बांध मरम्मत में हो रही अनियमितता की जानकारी मीडिया के द्वारा दिए जाने पर सीओ, बेनीपट्टी से जांच कर यथाशीघ्र रिपोर्ट भेजे जाने का निर्देश दिया है। एसडीएम ने बताया कि बांध मरम्मत में लापरवाही व अनियमितता सहन नहीं की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें