Ticker

6/recent/ticker-posts

सरस्वती मंदिर को पर्यटन रोड मैप में शामिल करने के लिए डीएम ने बिहार सरकार को भेजा पत्र

बेनीपट्टी (मधुबनी)। बेनीपट्टी के गम्हरिया गांव स्थित अंकुरित सरस्वती मंदिर को पर्यटन रोड मैप में शामिल करने के लिए मधुबनी जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने बिहार सरकार के सचिव व पर्यटन विभाग को पत्राचार किया है। जिलाधिकारी ने भेजे पत्र में कहा है कि हरलाखी के विधायक सुधांशू शेखर ने गम्हरिया के सरस्वती मंदिर एवं हरलाखी के बाग-तडाग तालाब को पर्यटन रोड मैप में शामिल करने का अनुरोध किया है। गौरतलब है कि गम्हरिया गांव का अंकुरित सरस्वती मंदिर पूरे बिहार में एकमात्र है। जहां सरस्वती की मूर्ति अंकुरित हुई है। बेनीपट्टी-हरलाखी मुख्य पथ के काफी अंदर भाग में मंदिर अवस्थित होने के कारण उक्त मंदिर का समुचित विकास नहीं हो पाया है। अब तक पूजा कमेटी के द्वारा ही मंदिर का निर्माण एवं पूजा-पाठ कराया जा रहा है। स्थानीय लोगों की माने तो मंदिर को पर्यटन रोड मैप में शामिल करने पर मंदिर का पूर्ण विकास के साथ लोग आसानी से सरस्वती मंदिर का दर्शन कर सकेंगे। जानकारी दें कि गत सरस्वती पूजा में ग्रामीणों ने इस मंदिर की ओर ध्यानाकर्षन कराने के लिए पूजा के दौरान सेल्फी प्रतियोगिता का आयोजन कराया था। जो आकर्षण का केन्द्र बना हुआ था। उधर विधायक के पत्र पर जिलाधिकारी के द्वारा सरकार को रिपोर्ट भेजे जाने पर स्थानीय लोगों ने खुशी प्रकट करते हुए कहा कि अब शायद मंदिर देश पटल पर आ सकेगा। स्थानीय लोगों ने बताया कि भगवती सरस्वती की मंदिर बनारस को छोड़ कर अन्य जगहों पर नहीं है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here

Post a Comment

0 Comments