Ticker

6/recent/ticker-posts

पीएम मोदी की सोच, पड़ोसी देश का हो समुचित विकास : डा. अजय

बेनीपट्टी(मधुबनी)। नेपाल के मटिहानी स्थित श्रीराम प्लस टू उच्च विद्यालय के मैदान में आयोजित नेपाल-भारत महिला मैत्री समाज के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नेपाल के भारतीय दूतावास के सामाजिक उत्थान मिशन के प्रमुख डीसीएम डा. अजय कुमार ने कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सोच है कि पड़ोसी मित्र देश का समुचित विकास हो। इसके लिए उन्होंने अपने देश के साथ सार्क देशों में भी शिक्षित समाज का निर्माण कर डिजिटल इंडिया के तर्ज पर डिजिटल सार्क बनाने की अवधारणा रखते हैं। मित्र देशों के युवाओं और महिलाओं में आत्म निर्भरता पैदा करने के लिए भारत -सरकार हर तरह के आर्थिक और वैचारिक मदद के लिए तैयार है। डीसीएम डा. कुमार मटिहानी में भारतीय दूतावास के सहयोग से नेपाल -भारत महिला मैत्री समाज के द्वारा सीमावर्ती क्षेत्र के महिलाओं के उत्थान के लिए तीन महीने का सिलाई -कटाई एवं ब्यूटीशियन कोर्स कार्यक्रम का उद्घाटन कर बुद्धिजीवियों को संबोधित करते हुए कहा। मिशन प्रमुख डा. कुमार मौके पर विधायक, नगरपालिका के मेयर एवं एचएम के मांग पर आगामी स्वतंत्रता दिवस पर स्कूल बस, मटिहानी नगरपालिका को एंबुलेंस सहित कई बहुप्रतीक्षित योजनाएं देने की घोषणा की। वहीं डा. कुमार ने कहा कि गणतंत्र दिवस के मौके पर महोत्तरी जिले को 20 एंबुलेंस दूतावास से दिया गया है। वहीं डा. कुमार ने निर्वाचित जनप्रतिनिधियों से अपील करते हुए कहा कि जनता के जरुरत के हिसाब से योजनाएं लागू हो तो नेपाल की नई सरकार को भरपूर सहयोग किया जाएगा। उधर, वीरगंज स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास के महावाणिज्य दूत बीसी प्रधान ने  कहा कि मटिहानी के वर्षों से बंद भंसार का विस्तृत ब्योरा लिखित रूप से दूतावास को उपलब्ध कराएं तो भारत व नेपाल सरकार को दोनों मित्र राष्ट्र के सदियों पुराने बेटी -रोटी के रिश्ते की भावना से अवगत कराकर इस जन समस्या का समाधान करने की दिशा में पहल किया जाएगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए नेपाल -भारत महिला मैत्री समाज की राष्ट्रीय अध्यक्ष सह नेपाल की पूर्व खेल मंत्री चंदा चौधरी ने संस्था के उद्देश्य और भूमिका पर व्यापक प्रकाश डालते हुए पूरे नेपाल में महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रम से अतिथियों को अवगत कराया। साथ ही दोनों पड़ोसी मित्र के बीच सदियों से स्थापित संबंधों पर जानकारी देते हुए छोटी भंसार बंद रहने पर पर रहे प्रभाव के संबंध में जानकारी दी। इससे पूर्व उपस्थित अतिथियों ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का विधिवत् उद्घटान किया। मुख्य अतिथि डा. कुमार को मिथिला पेंटिंग व विशिष्ट अतिथि बीसी प्रधान को मिथिला की स्मृति चिन्ह् भेंट किया गया। स्कूल की छात्रा काजल, पूनम, कलश, रूपा, नेहा, आरती व पूजा के द्वारा अतिथियों के सम्मान में स्वागत गान पेश किया गया। मौके पर उन्होंने मंच से महोत्तरी जिले के सात केंद्र के प्रशिक्षकों को एक -एक सिलाई मशीन सौंपकर उन्हें प्रशिक्षु महिलाओं को बेहतर तरीके से प्रशिक्षित करने को कहा। साथ ही 130 महिलाओं के लिए तीन महीनें तक संचालित होने वाले प्रशिक्षण हॉल का फीता काटकर उद्घाटन किया। इसी दौरान अतिथियों ने भारत सरकार द्वारा वर्षों पहले तीन करोड़ की लागत से बनाए गए अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस 32 कमरे के दो मंजिला स्कूल भवन में छात्रों के लिए दिए गए पांच सौ सेट बेंच डेस्क एवं हाल में दिए गए 20 कंप्यूटर सेट का निरीक्षण किया और एक सप्ताह के अंदर भुगतान का आश्वासन दिया। कार्यक्रम को अन्य लोगों के अलावे विधायक अभिराम शर्मा, रानी शर्मा, मटिहानी के नगरपालिका अध्यक्ष हरि प्रसाद मंडल, जलेश्वर के रामशंकर शाही, पीपरा के विनोद चौधरी, रामकुमार मंडल, उपेंद्र चौधरी, मोहन गुप्ता, विजय साह ने संबोधित किया।

Post a comment

0 Comments