Ticker

6/recent/ticker-posts

कुरीति को समाप्त करने में शिक्षा का होगा अहम योगदान : बीडीओ

बेनीपट्टी (मधुबनी)। समाज में व्याप्त किसी भी प्रकार की कुरीति को शिक्षा के माध्यम से खत्म किया जा सकता है। सदियों ने कुरीति को शिक्षा के बल पर ही समाप्त कर नया समाज का निर्माण किया गया है। इसके लिए सभी शिक्षकों को एक सकारात्मक सोच के साथ कार्य करना होगा, जिसका प्रभाव आम लोगों के जागृत कर सके। प्रखंड विकास पदाधिकारी डा. अभय कुमार ने प्रखंड के मेघदूतम् के सभागार में शुक्रवार की देर शाम सीआरसीसी व बीआरपी के साथ बैठक करते हुए कहा। बीडीओ डा. कुमार ने कहा कि इतिहास में ऐेसे लोगों का नाम दर्ज है, जिनके प्रयास से समाज सुधार में कार्य किये गये है। अब समाज से बाल विवाह एवं दहेज कुप्रथा को समाप्त करने की बारी है। ऐसे में सभी शिक्षक सकारात्म सोच के साथ लोगों को इस कुरीति के भयावहता के संबंध में जानकारी देकर जागरुक करने का कार्य करें, ताकि लोग इस कुरीति से होने वाला नुकसान के संबंध में जान सके। बैठक में बीडीओ ने सभी सीआरसीसी को आगामी 15 जनवरी को पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत साईकिल रैली की तैयारी करने एवं इसमें अधिक से अधिक लोगों की सहभागिता हो, इसका खास ख्याल रखने का निर्देश दिया। शिक्षकों ने बीडीओ से आगामी 15 जनवरी को सर्व शिक्षा अभियान के तहत कार्यक्रम की जानकारी दी, तो बीडीओ ने सभी सीआरसीसी को इस समस्या के संबंध में वरीय अधिकारी से वार्त्ता कर निदान करने की बात कही। वहीं बीडीओ ने सभी सीआरसीसी को विद्यालय प्रभारी के साथ बैठक कर रैली को हर हाल में सफल बनाने को कहा। बीडीओ ने सीआरसीसी को विद्यालय प्रभारी के माध्यम से अभिभावकों के साथ बैठक करने,मीना मंच का आयोजन कर छात्राओं को जागरुक करने का निर्देश दिया। बैठक में प्रखंड कृषि पदाधिकारी प्राणनाथ सिंह, प्रखंड कल्याण पदाधिकारी राजेश कुमार, बीआरपी मिथिलेश मिश्र, प्रदीप कुमार झा, अनीसूर रहमान खां, संकुल समनव्यक सुनील मिश्रा, रविन्द्र झा, आशीष नारायण झा, अमिताभ झा , अमित कुमार झा, मनोज प्रसाद सहित कई सीआरसीसी मौजूद थे।

Post a comment

0 Comments