Ticker

6/recent/ticker-posts

स्टेट हाईवे किनारे प्राइमरी स्कूल की नहीं हुई चहारदिवारी

बेनीपट्टी (मधुबनी)। स्टेट हाईवे-52 पथ के किनारे संचालित प्राईमरी स्कूल की घेराबंदी नहीं होने के कारण स्कूली छात्रों में दुर्घटना को लेकर आशंका बनी रहती है। प्रखंड के बनकट्टा पंचायत के उड़ेन स्थित प्राथमिक विद्यालय की घेराबंदी की समस्या के कारण स्कूल के बच्चों के उपस्थिति पर प्रतिकूल प्रभाव छोड़ रहा है। स्कूल का मुख्य द्वार स्टेट हाईवे के मुख्य पथ पर ही होने के कारण छात्र अधिक भय से सहमें रहते है। जबकि स्कूल में करीब 83 छात्र व छात्राएं नामांकित है। स्कूल के पास अन्य संसाधन की कोई कमी नहीं है, लेकिन चहारदिवारी नहीं होने के कारण समस्या अधिक हो रही है। गौरतलब है कि उड़ेन के प्राथमिक विद्यालय की स्थापना वर्ष-1963 में करीब दो कठ्ठा जमीन देकर कराई गयी। उक्त समय स्टेट हाईवे चौड़ी नहीं थी। जिसके कारण स्कूल सुरक्षित माना जाता था। परंतु हाईवे के विस्तारीकरण के कारण अब स्कूल व सड़क के बीच खाई कम हो गयी है। सहायक शिक्षक उपेन्द्र दास ने बताया कि स्कूल के नामांकित बच्चों के पढ़ाने के लिए तीन शिक्षक है। राशि के अभाव में किचेन शेड निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ है। सहायक शिक्षक की माने तो जल्द ही किचेन शेड का निर्माण पूरा करा लिया जाएगा। स्कूल के पड़ताल के दौरान छात्रों ने स्कूल में शैक्षणिक माहौल नहीं होने की शिकायत की। छात्रों ने बताया कि सड़क के किनारे स्कूल संचालित होने से काफी समस्या हो रही है। इस संबंध में स्कूल के प्रभारी एचएम सुनील कुमार झा ने बताया कि चहारदिवारी की समस्या के संदर्भ में विभागीय अधिकारी को लिखा जा चुका है। समस्या का निदान उनके स्तर से नहीं हो सकता है। विभाग से प्राप्त संसाधन से बच्चों को शिक्षा दी जा रही है।

Post a Comment

0 Comments