Ticker

6/recent/ticker-posts

प्रशिक्षण के नाम पर हो रही खानापूर्ति

बेनीपट्टी(मधुबनी)। प्रखंड के बीआरसी में संचालित समावेसी गैर आवासीय प्रशिक्षण महज खानापूर्ति बनकर रह गयी है। प्रशिक्षक के द्वारा प्रशिक्षुओं को जहां विभागीय आदेश के बाद भी चाय-नाश्ता नहीं दिया जा रहा है।वहीं जेनरेटर की सुविधा तक नहीं दी गयी है। गर्मी के मौसम में किसी प्रकार प्रशिक्षु प्रशिक्षण लेने को विवश है। गौरतलब है कि प्रशिक्षण के दौरान 38 प्रशिक्षुओं एवं 2 प्रशिक्षकों को चाय-नाश्ता, स्टेशनरी, प्रशिक्षक मानदेय व शिक्षकों को टीए देना है। नाम न बताने की शर्त पर कुछ प्रशिक्षुओं ने बताया कि प्रशिक्षण के नाम पर लूट मची हुई है। डीईओ के निरीक्षण के दौरान प्रशिक्षण का पोल खुल जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गयी। प्रशिक्षण के दौरान जहां प्रशिक्षण स्थल के साफ-सफाई के लिए राशि व्यय की जा रही है, वहीं प्रशिक्षण पर इसके उलट गंदगियों का भरमार पाया गया। जबकि सफाईकर्मी को रोजाना एक सौ रुपये सफाई के नाम पर दी जानी है। सूत्रों की माने तो प्रशिक्षण के दौरान अधिकांश प्रशिक्षुओं को नाश्ता तक नहीं मुहैया कराई जा रही है। सोमवार को प्रशिक्षण के दौरान पहुंचने पर मात्र 25 प्रशिक्षु ही पाये गये। गौरतलब है कि जिला शिक्षा पदाधिकारी राजेंद्र मिश्रा के निरीक्षण के दौरान भी कम संख्या में शिक्षकों की उपस्थिति देखी गयी। जिसके बाद डीईओ ने 25 शिक्षकों के वेतन पर रोक लगा देने का निर्देश दिया था। डीईओ ने निरीक्षण के बाद भी प्रशिक्षण में व्याप्त कथित लूटखसोट थमने का नाम ही नहीं लिया है।



Post a Comment

0 Comments