Ticker

6/recent/ticker-posts

नदियों के जलस्तर में वृद्धि से बाढ़ की आशंका हुई तेज

बेनीपट्टी(मधुबनी)। नेपाल के जलअधिग्रहण क्षेत्र में लगातार बारिश होने के कारण अधवारा समूह के सभी सहायक नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है।अधवारा समूह के सहायक धौंस नदी के जलस्तर में वृद्धि होने से बेतौना-सोईली के बघार में पानी फैल  गया है।जिसके कारण किसानों के खेतों में लगे धान की फसल बर्बाद होने कगार पर पहुंच गयी है।वहीं पानी के तेज बहाव के कारण प्रशासन के निर्देश पर मलहामोर स्थित लचका पुल के खतरनाक डायबर्सन को तत्काल बांस-बल्ला लगाकर बंद कर दिया गया है।मधवापुर व साहरघाट को जाने वाली बसें बसैठ होकर आवाजाही कर रही है।फिलहाल उक्त डायबर्सन पर तीन फीट नदी का पानी का बहाव हो रहा है।स्थानीय लोगों ने बताया कि संबेदक के कार्य गति धीमे होने के कारण समय पर लचका पुल के स्थान पर नया पुल का निर्माण नहीं हो पाया है।उधर दुर्गापूजा में उच्चैठ आवाजाही में परेशानी को लेकर श्रद्धालु अलग ही परेशान नजर आ रहे है।इधर बेनीपट्टी के सभी नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है।वहीं धौंस नदी के जलस्तर में वृद्धि होने से करहारा गांव के लोगों की परेशानी अभी से ही बढ़ गयी है।लोगों को आवाजाही की समस्या उत्पन्न हो गयी है।सोईली के बघार में करीब चार से पांच फीट बारिश व नदी का पानी जमा हुआ है।जिसके कारण करहारा गांव के आवाजाही करने वाला पथ पानी में डूब गया है।वहीं स्थानीय किसानों ने बताया कि पानी के जमे होने के कारण धान की फसल बर्बाद हो रही है।वहीं कुछ किसानों ने बताया कि इसी तरह पानी जमा रहा तो रवी फसल से भी हाथ धोना पड़ेगा।अंचलाधिकारी ललित कुमार  सिंह ने बताया कि नदी के जलस्तर पर ध्यान दिया जा रहा है।फिलहाल बाढ़ आने की आशंका कम बनी हुई है।प्रशासन चौकस है।

Post a Comment

0 Comments