चार लाख लोगों के लिए महज नौ चिकित्सकों की तैनाती - BNN News

Breaking

7 Jun 2018

चार लाख लोगों के लिए महज नौ चिकित्सकों की तैनाती

बेनीपट्टी(मधुबनी)। स्वास्थ्य विभाग में चिकित्सकों की कमी के कारण बेनीपट्टी के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में चिकित्सकों की तैनाती नहीं की जा रही है। चिकित्सकों की कमी का आलम ये है कि बेनीपट्टी अनुमंडल मुख्यालय के स्वास्थ्य केन्द्र में गत तीन वर्षों से महिला चिकित्सक की तैनाती नहीं की गई है। जिसके कारण महिला मरीजों को आए दिन परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। चिकित्सकों की कमी को दूर करने के लिए रोगी कल्याण समिति के बैठक में कई बार मुद्दा गरमाया, लेकिन, उक्त प्रस्ताव पर आज तक कोई कार्रवाई नहीं हो पायी है। चिकित्सक के कमी के कारण केन्द्र में प्रतिनियुक्त चिकित्सक मानसिक दवाब में रहते है। वहीं आपात स्थिति आ जाने पर स्थिति अनियंत्रित हो जाती है। बावजूद, विभाग की ओर से चिकित्सकों की कमी को दूर नहीं किया जा रहा है। गौरतलब है कि बेनीपट्टी में एक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र व चार अतरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र संचालित है। अधिकतर एपीएचसी पर आयुष चिकित्सकों की प्रतिनियुक्ति कर किसी तरह से रोगियों की जांच कराई जा रही है। सूत्रों की माने तो अधिकांश जगहों पर पूर्जी कटाने के बाद बेनीपट्टी के लिए रेफर कर दिया जाता है। सामान्य से जुकाम, बुखार अथवा अन्य बीमारी होने की दवा दी जाती है। विभागीय अधिकारी ने बताया कि बेनीपट्टी में मात्र नौ चिकित्सक ही है। जबकि सवा चार लाख की आबादी है। सूत्रों ने बताया कि आयुष व दंत चिकित्सक के भरोसे किसी प्रकार ओपीडी का संचालन कर लिया जाता है। अन्यथा स्थिति काफी खराब है। गौरतलब है कि बेनीपट्टी का अतिमहत्वपूर्ण प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में एक आंकड़ा के अनुसारा रोजाना दो से ढाई सौ मरीज सामान्य रुप से इलाज के लिए आते है। ऐसे में आपात मरीज के आ जाने पर स्थिति का आकलन सहज रुप से किया जा सकता है। इस संबंध में पूछे जाने पर चिकित्सा पदाधिकारी डा. रविन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि चिकित्सकों की कमी को लेकर कई बार पत्राचार किया जा चुका है। पुनः पत्राचार कर विभाग को अवगत कराया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें