जयनगर(मधुबनी)। 
बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के आह्वान पर गुरुवार को जयनगर प्रखंड के प्राथमिक एवं मध्य विद्यालयों में कार्यरत नियोजित शिक्षकों ने पुरानी पेंशन की मांग को लेकर  काली पट्टी बांध कर शैक्षणिक कार्य किया। 

1

प्रखंड में जारी चहक प्रशिक्षण केंद्रों में भी शिक्षकों ने बांह पर काली पट्टी लगाकर काला दिवस मनाया। प्रखंड अध्यक्ष राज किशोर यादव ने बताया कि केंद्र में अटल बिहारी की सरकार ने 2004 से पुरानी पेंशन की व्यवस्था को बंद कर दिया था | बिहार सरकार ने भी 31 अगस्त 2005 को जारी अधिसूचना के मुताबिक राज्य कर्मी शिक्षक कर्मचारी के पेंशन को 1 सितंबर 2005 से बंद कर नई पेंशन लागू किया। नई पेंशन योजना  राज्य कर्मियों के लिए हितकारी नहीं है | क्योंकि सेवानिवृत्ति के बाद कर्मियों को जीवन यापन हेतु उचित आर्थिक सहयोग नहीं मिल पाता है। उपाध्यक्ष  मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि राज्य में पंचायती राज संस्था एवं नगर निकाय संस्था अंतर्गत नियुक्त नियोजित शिक्षकों को पूर्णरूपेण पेंशन स्कीम से वंचित रखा गया है। 

2

जो उनके भविष्य के साथ धोखा है | उन्होंने कहा कि राजस्थान, छत्तीसगढ़ ,झारखंड सरकार ने पुरानी पेंशन लागू कर दिया है | परंतु बिहार सरकार अभी तक पुरानी पेंशन लागू नहीं किया है | कोषाध्यक्ष रामाशीष दास व संतोष कुमार सिंह  ने कहा कि राज्य संघ के आह्वान पुरानी पेंशन लागू करवाने हेतु  सूबे के लाखों शिक्षक बांह पर काली पट्टी लगाकर शैक्षणिक कार्य करते हुए सरकार की नई पेंशन नीति का विरोध किया है। केंद्र एवं राज्य सरकार अभिलंब शिक्षक एवं कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए फिर से पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू करें अन्यथा राज्यव्यापी चरणबद्ध आंदोलन की जाएगी ।

मौके पर सत्यदेव यादव, रामपूजन यादव, मो मुस्तफा, पांडव यादव, शत्रुघन सिंह, संजय कुमार, रंजू कुमारी, कविता कुमारी, मुन्नी कुमारी, पूजा कुमारी, जमुना कुमारी, भारती कुमारी, आनंदी, पुष्पा कुमारी, आमोद कुमार झा, अरुण सिंह, शिव शंकर प्रसाद, आदि ने विरोध प्रकट किये l


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here




ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post