मधुबनी। शहर के सूरज नारायण सिंह देव नारायण गुड़मैता वाट्सन प्लस टू विद्यालय में मधुबनी जिले के सभी संस्कृत महाविद्यालयों के छात्र-छात्राओं का परीक्षा केंद्र बनाया गया है। गुरुवार से शुरू कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय के शास्त्री प्रथम वर्ष के दूसरे दिन प्रथम शास्त्रीय एवं द्वितीय शास्त्रीय विषयों की परीक्षा ली गई। प्रथम पाली 9 से 12 तथा द्वितीय पाली 1 से 4 बजे तक ली गई।

1

शुक्रवार को दोपहर बाद केएसडीएस के प्रतिकुलपति प्रो.सिद्वार्थ शंकर सिंह ने वाट्सन प्लस टू परीक्षा केंद्र का औचक निरीक्षण किये । विभिन्न परीक्षा कक्षाओं का अवलोकन के बाद शान्तिपूर्ण व कदाचार रहित वातावरण में चल रहे परीक्षा पर प्रसन्नता व्यक्त की। जनसुविधा की दृष्टि से परीक्षार्थियों के मद्देनजर केन्दाधीक्षक अजीत कुमार साहु को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। निरीक्षण के क्रम में प्रोवीसी ने परीक्षा संबंधी कई आवश्यक बातें परीक्षार्थियों से भी पूछें। तथा छात्रों के संतोषप्रद जवाब से संतुष्ट दिखे।

2

वहीं डॉ.रामसेवक झा ने बताया कि शास्त्री प्रथम खंड की परीक्षा शनिवार को सम्पन्न होगी । तथा द्वितीय खण्ड की परीक्षा 5 से 7 सितंबर तक आयोजित होगी ‌। साथ ही तृतीय खंड की परीक्षा 

8 से 10 सितम्बर तक होगी। परीक्षा प्रतिदिन दो पालियों में आयोजित की जाएगी।

शुक्रवार को शास्त्री प्रथम खंड के कुल 296 परीक्षार्थी में 59 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे।

औचक निरीक्षण में प्रोवीसी के अलावा प्रो.सत्यवान , सुशील कुमार झा आदि सम्मिलित थे । 

वाट्सन परीक्षा केंद्र पर परीक्षा के सफल संचालन के लिए ओजैर अहमद, डॉ.शिवनंदन शर्मा, वरुण चौधरी, सुधांशु शेखर झा, महाकांत कुमार, अशोक कुमार,हेमंत झा,अब्बु हुरैरह, निक्की कुमारी, लक्ष्मी कुमारी , राजेश झा,रामसिंहासन सिंह आदि तत्पर दिखें।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here




ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post