जयनगर(मधुबनी)।  प्रखंड के दुल्लीपट्टी गांव स्थित खेती योग्य भूमि को एसएसबी के द्वारा अधिग्रहण मामले को लेकर भू स्वामी और ग्रामीणों के द्वारा भू स्वामी समिति कार्यालय दुल्लीपट्टी में 
84 दिनों से जारी अनिश्चितकालीन सत्याग्रह एवं धरना को विभिन्न राजनीतिक दलों के दर्जनों कार्यकर्ताओं के अलावे समाजिक बुद्धिजीवी वर्ग के लोगों ने अपना समर्थन देते हुए भूमि अधिग्रहण के खिलाफ सरकार और प्रशासन के खिलाफ विरोध दर्ज किया। भू स्वामी मदन कुमार झा की अध्यक्षता में जारी धरना स्थल पर शनिवार को भाकपा माले ने अपना समर्थन देते हुए कहा कि गांव के बीच सरकार और प्रशासन ने बल पूर्वक किसानों के जमीन को एसएसबी के द्वारा अधिग्रहण किया गया है। धरना स्थल पर मौजूद वक्ताओं ने कहा कि दुल्लीपट्टी गांव के दर्जनों किसान अपने खेती योग्य जमीन को लेकर पिछले 84 दिनों से अनिश्चितकालीन सत्याग्रह एवं धरना दे रहे हैं। 

1

बावजूद स्थानीय प्रशासन के द्वारा इन किसानों के समस्याओं के समाधान या सूधी लेने के लिए नहीं आ रहे हैं। एसएसबी के द्वारा जिस जमीन का जबरन अधिग्रहण किया गया है। उस जमीन के बीच से दो शाखा नहर प्रवेश करती है। भारत कृषि प्रधान देश है। बावजूद प्रशासन किसानों के खेती योग्य भूमि को जबरन अधिग्रहण करने का काम कर रही है। अर्द्धसैनिक बलों का मुख्यालय आबादी से बाहर होना चाहिए। अधिग्रहण जमीन तीन वार्डों में पङता है। भारत के कानून में ऐसे आबादी क्षेत्र में अधिग्रहण का कोई प्रावधान नहीं है। 

2

वक्ताओं ने कहा कि 15 वर्ष पूर्व जमीन को अधिग्रहण के लिए घोषणा की गई थी। लेकिन किसानों ने अब तक कोई मुआवजा तक नहीं लिया है। और अपनी सहमति नहीं दिया है। आज भी किसानों के नाम पर जमीन हैं। अर्द्ध सैनिक बलों के द्वारा एक तरफा कारवाई को भाकपा माले गुंडागर्दी मानतीं है। भाकपा माले किसानों के धरना का शुरू से समर्थन करती आ रही है और आंदोलन के पक्ष में अपना समर्थन देने के लिए आज मधुबनी जिला टीम अपनी उपस्थिति दर्ज की है। वक्ताओं ने कहा कि सरकार और प्रशासन गलत रवैया अपना रही है। दुल्लीपट्टी गांव के आसपास के क्षेत्रों में कई एकङ सरकारी जमीन आज भी किसी काम योग्य नहीं है। जिस पर सरकार की नजर नहीं हैं। जिस जमीन पर अधिग्रहण किया गया है। उससे दर्जनों परिवारों का एक मात्र साधन खेती था।वो किसान अब सङक पर आ गया है। सरकार को उक्त जमीन को खाली कर देना चाहिए। 

भाकपा माले के केंद्रीय पोलित ब्यूरो सदस्य सह मिथिलांचल प्रभारी धीरेंद्र झा, ध्रुव नारायण कर्ण जिला सचिव, भूषण सिंह प्रखंड सचिव, श्याम पण्डित, योगनाथ मंडल, विजय राय, अनिल सिंह, लक्षण राय, विशनव कामत, योगेंद्र यादव, बेचन राम, जिला सचिव अखिल भारतीय खेत व ग्रामीण मजदूर सभा मो मुस्तुफा, मो साबिर, मो तस्लीम एवं प्रखंड कमिटी सदस्य धरना स्थल पर पहुंचकर शामिल हुए। भू स्वामी सह सोशल वर्क एण्ड दुल्लीपट्टी के अध्यक्ष समाजसेवी विरेन्द्र यादव, मनीष कुमार, पूर्व मुखिया चंद्र मोहन सिंह समेत अन्य मौजूद थें। धरना स्थल पर भू स्वामी  देव रमण झा एवं  राम गुलाम पंडित धरनार्थी के साथ सकल देव चौधरी सहयोगी धरनार्थी बनकर समर्थन प्रदान किया।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here



ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post