स्थानीय प्राधिकार निर्वाचन क्षेत्र मधुबनी सीट के चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवार अम्बिका गुलाब यादव ने बड़ी जीत हासिल कर ली है। प्रथम वरीयता के मतगणना से ही अम्बिका गुलाब यादव पहले नम्बर पर मजबूती से काबिज रही, जबकि दूसरे नम्बर पर निर्दलीय सुमन कुमार महासेठ थे।  जो कि अंतिम परिणाम में अम्बिका गुलाब यादव को ऐतिहासिक जीत मिली है। जहां पहली बार मधुबनी सीट से निर्दलीय व महिला उम्मीदवार ने जीत हासिल की है।

निर्दलीय प्रत्याशी अम्बिका गुलाब यादव की मधुबनी सीट पर 1667 वोट से जीत हासिल किया है, दुसरे नंबर पर रहे सुमन महासेठ को 1831 वोट मिले जबकि अम्बिका गुलाब यादव को 3498 वोट मिले

1

दूसरी तरफ अम्बिका गुलाब यादव अपने समर्थकों के साथ मतगणना स्थल पहुंच चुकी है, जहां समर्थकों का उत्साह देखते ही बन रहा है।

वहीं पूरे बिहार में मधुबनी सीट की सबसे अधिक चर्चा हो रही है जहां पहले व दूसरे नम्बर दोनों पर निर्दलीय उम्मीदवार रहे, जबकि दलीय उम्मीदवार तीसरे चौथे व पांचवे नम्बर पर मशक्कत करते हुए नजर आए हैं।

निर्दलीय अम्बिका गुलाब यादव ने अपने निकटम प्रतिद्वंद्वी बीजेपी से बगावत करके मैदान में उतरे निर्दलीय सुमन कुमार महासेठ को मात दी है।

2

वहीं राजद के उम्मीदवार मो. मेराज आलम तीसरे नम्बर पर रहे, जबकि चौथे नम्बर पर जदयू के उम्मीदवार विनोद कुमार सिंह रहे। कांग्रेस के उम्मीदवार सुबोध कुमार मंडल पांचवें व कमल देव भंडारी छठे स्थान पर रहे।

जानकारी के लिए बता दें कि निर्दलीय निर्वाचित हुई अम्बिका गुलाब यादव, झंझारपुर के पूर्व विधायक गुलाब यादव की पत्नी हैं। गुलाब यादव राजद से राजनीतिक रूप से जुड़े रहे हैं, और राजद के टिकट पर विधायक भी रहे हैं, लोकसभा का चुनाव भी लड़े हैं, लेकिन राजद से इस बार विधान परिषद के टिकट की आस में थे, जो कि नहीं मिलने के बाद उन्होनें अपनी पत्नी अम्बिका गुलाब यादव को निर्दलीय चुनाव लड़वाने का ऐलान कर दिया। जिसके बाद पार्टी ने उन पर अनुशासन का हवाला देकर पार्टी से निष्कासन का कार्रवाई भी किया था।

वहीं राजद से निष्कासित पूर्व विधायक गुलाब यादव ने अपनी पत्नी अम्बिका गुलाब यादव के जीत के साथ अपनी राजनीतिक धमक दिखा दी है। पिछले वर्ष 2021 संपन्न हुए पंचायत चुनाव में गुलाब यादव ने अपनी पुत्री बिंदु गुलाब यादव व पत्नी अम्बिका गुलाब यादव, दोनों को जिला परिषद के उम्मीदवार बनाकर मैदान में उतारा था।

जिसमें पुत्री बिंदु गुलाब यादव को जीत मिली थी, जबकि अम्बिका गुलाब यादव हार गई थी। जिसके बाद गुलाब यादव ने मधुबनी जिला परिषद अध्यक्ष पद पर अपनी पुत्री अम्बिका गुलाब यादव को खड़ा कर समीकरण को अपने पक्ष में कर लिया, एनडीए के तरफ आए उम्मीदवार बनाये गए सईदा बानो के लिए जिले के सांसद से लेकर एमएलसी, विधायकों के जमघट के बाद भी बिंदु गुलाब यादव मधुबनी जिला परिषद अध्यक्ष पद पर शानदार जीत हासिल की थी।

जिसके बाद से ही गुलाब यादव की नजर स्थानीय प्राधिकार निर्वाचन क्षेत्र मधुबनी पर थी, जिसके लिए राजद से टिकट की चाहत में उन्होनें लालू यादव तक भी अपनी बात पहुंचाई लेकिन उन्हें आश्वासन के बाद भी टिकट नहीं मिला, राजद ने बिस्फी मेराज आलम को टिकट दे दिया।

चुनाव के दौरान तेजस्वी यादव अपने जनसभा में कई बार गुलाब यादव पर तंज कसते हुए नजर आए। वहीं अब गुलाब यादव ने अपनी बेटी को जिला परिषद अध्यक्ष व पत्नी को विधान परिषद का सदस्य निर्वाचित करवाकर राजद सहित अन्य दलों को सफल इलेक्शन मैनजेमेंट का नया नमूना दिखाया है।

वहीं इस चुनाव में दूसरे नम्बर पर रहे  निर्दलीय सुमन महासेठ इससे पहले के चुनाव में बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़े थे और जीत हासिल की थी, वहीं 2020 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने एनडीए के घटक दल विकासशील इंसान पार्टी के तरफ रुख किया और वीआईपी के टिकट पर मधुबनी सीट से विधानसभा का चुनाव लड़ा था, जिसमें भी उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

वहीं इस चुनाव में सीट बंटवारे में यह सीट एनडीए खेमे से जदयू के हिस्से में चली गई, जिसके कारण सुमन महासेठ का टिकट कट गया। जदयू ने विनोद कुमार सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया, जो कि इस चुनाव में कुछ खास छाप नही छोड़ पाए और चौथे स्थान पर रहे। जानकारी के लिए बता दें कि विनोद कुमार सिंह हाल में ही लोजपा छोड़कर जदयू के तरफ रुख किये थे, लोजपा से पहले वह जदयू में थे, और जदयू के टिकट पर मधुबनी सीट से एमएलसी भी बनें थे। फिर जदयू का साथ छोड़ वह बीच में कुछ समय के लिए लोजपा में सक्रिय रहे। वहीं विधान परिषद चुनाव से कुछ महीने पहले वह फिर से जदयू में आ गए थे, और जदयू से टिकट लेकर चुनाव लड़े... जदयू बीजेपी के बड़े बड़े दिग्गज नेता, मंत्री सांसद, विधायकों ने विनोद सिंह के लिए कैम्प किया, वाबजूद भी उन्हें करारी हार का सामना करना पड़ा है।

जबकि निर्दलीय उम्मीदवार अम्बिका गुलाब यादव के खेमे में जीत के जश्न में ढोल नगाड़ों के साथ मिठाई बंटनी शुरू हो चुकी है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here




ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post