बेनीपट्टी(मधुबनी)। महमदपुर कांड में पटना उच्च न्यायालय से जमानत मिलने के बाद मंगलवार की रात राजीव ठाकुर अपने गांव बरहा पहुँचे। जमानत के बाद कागजी प्रक्रिया के उपरांत उनके परिजन जेल पहुँच कर राजीव ठाकुर को लेकर घर पहुँचे। जहां राजीव के घर पहुँचने की खबर लगते ही ग्रामीण राजीव को देखने के लिए देर रात तक पहुँचते रहे। इस दौरान कई ग्रामीणों की आंखे नम हो गयी।

1

बता दे कि राजीव ठाकुर को करीब दस महीने तक जेल में रहने के बाद 28 जनवरी को पटना हाईकोर्ट से जमानत मिली थी। राजीव ठाकुर के पक्ष से पटना के वरीय अधिवक्ता शिवनंदन भारती ने कोर्ट में बहस की थी।


राजीव ठाकुर के घर लौटने के बाद भावुक परिजनों ने कहा कि हमलोगों का कानून पर भरोसा कायम है, राजीव को फिलहाल न्यायालय से जमानत मिली है। उन्हें इस कांड में फंसाया गया था, आने वाले समय में वह इस मामले में बरी भी होंगे।

2

जानकारी के लिए बता दें कि अब तक इस कांड में राजीव ठाकुर समेत कुल 5 लोगों को जमानत मिल चुकी है। जिनमें कांड के मुख्य अभियुक्त प्रवीण झा के पिता घनश्याम झा, माता सुनैना देवी,  निखिल झा, शोभाकांत मेहता व राजीव ठाकुर के नाम शामिल हैं।


जानकारी हो कि पिछले वर्ष 2021 में होली के दिन 29 मार्च को बेनीपट्टी प्रखंड के महमदपुर गांव में 5 लोगों की हत्या हुई थी। जिसमें 3 सहोदर भाई भी शामिल थे। इस बाबत बेनीपट्टी थाने में कांड संख्या 67/2021 दर्ज किया गया था।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here




ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post