बेनीपट्टी(मधुबनी)। भारत के सांस्कृतिक का केंद्र बिंदु मिथिला क्षेत्र रहा है। मधुबनी पेंटिंग आज देश ही नहीं, वरन, विदेशों में भी ख्याति प्राप्त कर चुका है। इसे अधिक उजागर किये जाने की आवश्यकता है। इस क्षेत्र के युवा वर्ग खेल को बढ़ावा देकर इस दिशा में भी ख्याति प्राप्त कर सकते है। ये बातें मंगलवार को बेनीपट्टी विधानसभा के नगवास माध्यमिक स्कूल के परिसर में निर्मित कला मंच का उद्घाटन करते हुए पूर्व मंत्री सह एमएलए विनोद नारायण झा ने कहा। उन्होंने कहा कि बिहार सरकार ने अब हर पंचायत में उच्च विद्यालय की स्थापना करा रही है। 



ऐसे में शैक्षिणक के साथ साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए कला मंच भी होना चाहिए। श्री झा ने कहा कि टोक्यो में हुए ओलंपिक में जिस तरह भारत ने सात पदक अपने नाम किया है। वो पहली बार हुआ है। खेल कूद को बढ़ावा देने के लिए सीएम नीतीश कुमार ने खेल विश्वविद्यालय स्थापना की घोषणा की है। इससे खेल को बढ़ावा मिलेगा। 



उन्होंने कहा कि खेल को अब गांव-गांव ले जाने की आवश्यकता है। अगर खेल कूद को इस क्षेत्र के युवा बढ़ावा देते है तो अन्य प्रदेश के युवाओं की तरह यहां के युवा भी बड़े बड़े पदक जीत पाएंगे। गौरतलब है कि सीएम क्षेत्र विकास योजना के तहत करीब 11 लाख 10 हजार की राशि से निर्मित कला मंच का उद्घाटन विधायक ने फीता काटकर किया। 


कार्यक्रम की अध्यक्षता सीतेश चौधरी ने किया। वही संचालन देवचन्द्र सिंह ने किया। मौके पर भाजपा के बरुण सिंह, पूर्व प्रखंड अध्यक्ष कृष्णेश्वर ठाकुर, पप्पू सिंह, सुभाष यादव, शंकर झा, कन्हैया सिंह, रिक्की सिंह, शशि सिंह, दीपक झा, विमल झा आदि बीजेपी नेता मौजूद थे।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here




ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post