Ticker

6/recent/ticker-posts

पुलिस के आश्वासन पर खुल गयी सिमरी बाजार, जल्द हो गिरफ्तारी



बेनीपट्टी(मधुबनी)। मधुबनी के बिस्फी थाना के सिमरी में स्वर्ण व्यवसायी गौरी शंकर ठाकुर की हत्या से आक्रोशित व्यवसायियों ने सिमरी बाजार बंद कर विरोध प्रकट किया। सिमरी के व्यवसायियों का मांग है कि सिमरी बाजार में पुलिस कैम्प की स्थापना, सीसीटीवी फुटेज के आधार पर अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी, पीड़ित परिवार को मुआवजा व तत्काल फ़ोर्स की व्यवस्था हो। इस दौरान बन्द बुलाये व्यवसायियों ने लचर कानून व्यवस्था पर पुलिस प्रशासन पर जमकर आरोप लगाए।


उधर, सिमरी बंद की सूचना मिलते ही स्थानीय बिस्फी एसएचओ संजय कुमार समेत पुलिस फोर्स मौके पर पहुँच कर शांति व्यवस्था कायम करने में जुट गए और इनकी सूचना वरीय अधिकारी को दी। लगातार बाजार बंद की जानकारी पर सर्किल इंस्पेक्टर राजेश कुमार मौके पर पहुँच कर व्यवसायियों व स्थानीय लोगों से बात कर घटना में संलिप्त अपराधियों को शीघ्र गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। वही अन्य मांग को वरीय अधिकारी के संज्ञान में देने की बात कही। जिसके बाद दोपहर करीब तीन बजे सिमरी बाजार बंद को खत्म करा दिया गया।



उधर, स्वर्ण व्यवसायी गौरीशंकर ठाकुर के हत्या से उनके परिजन अभी भी सहमे हुए है। घर के लोगों का रो रोकर बुरा हाल बना हुआ है। मृतक की मां मनटुन देवी बार बार बेहोश हो रही है। वही पत्नी रंजीता देवी की हालत भी रो रोकर खराब है। मृतक व्यवसायी को दो पुत्र व एक पुत्री है। एक पुत्र को अपराधियों ने बट्ट से मारकर जख्मी कर दिया है। जिसका इलाज अभी भी चल रहा है।

गौरतलब है कि गुरुवार की देर शाम दुकान बंद कर रहे सिमरी बाजार के स्वर्ण व्यवसायी गौरीशंकर ठाकुर की हत्या अपराधियों ने गोली मारकर कर दी। घटना की सीसीटीवी फुटेज भी सामने आ गया है। जिसमें मास्क लगाए अपराधी दुकानदार के साथ झड़प करते दिखाई दे रहा है। अपराधी के हाथ में पिस्टल भी स्पष्ट रूप से दिख रहा है।

इस संबंध में सर्किल इंस्पेक्टर राजेश कुमार ने बताया कि सिमरी बाजार के लोगों की मांग पर आश्वासन देकर बाजार को खुलवा दिया गया है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस जांच कर रही है। जल्द ही संलिप्त अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here

Post a Comment

0 Comments