बेनीपट्टी (मधुबनी)। बेनीपट्टी के पाली में हुई ट्रक लूटकांड का मास्टरमाईंड चालक ही निकला। खलासी को बेहोशी की सुई देकर गैंग के माध्यम से ट्रक को बेगूसराय में बेच दिया था। ट्रक बेच कर फर्जी लूटकांड की प्राथमिकी बेनीपट्टी थाना में दर्ज करा दी थी। पुलिस ने टेक्निकल सेल के सहयोग से पूरे मामले का उद्भेदन कर छह अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है। शनिवार को बेनीपट्टी थाना पर प्रेस वार्ता करते हुए डीएसपी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि ट्रक चालक पंकज कुमार अपने ही सहयोगियों के साथ खलासी आयुष सिंह को बेहोशी की सुई देकर गेंहू को खुटौना में सवा चार लाख रुपये में बेच कर ट्रक को बेगूसराय में बेच दिया।


डीएसपी ने बताया कि मामला सामने आते ही तुरंत पुलिस निरीक्षक सह एसएचओ महेन्द्र कुमार सिंह के नेतृत्व में टीम गठित कर दी गई। जो तकनीकी सेल के मदद से लगातार छापेमारी कर रही थी। छापेमारी में सबसे पहले पुलिस ने रहिका से अरवल जिले के महेंदिया के योगेन्द्र कुमार यादव को गिरफ्तार किया। जिससे पूछताछ के बाद देवधा से सहयोगी मनोज कुमार यादव व बाबूबरही के भटचौरा से रंजीत कुमार को दबोचा गया। जिसके बाद पूरे घटना की पटकथा खुल गई। पुलिस की छापेमारी टीम बेगूसराय के लाखो ओपी क्षेत्र से चालक के सहयोगी राजकिशोर महतो को गिरफ्तार कर पूछताछ की।

जिसके आधार पर बेगूसराय टाउन के सुभाष चौक के समीप पेट्रोल पंप के सामने गैराज से लूटी हुई ट्रक को बरामद किया गया। जिसका पहचान छुपाने के लिए नंबर बदल दिया गया था। वाहन के दोनों गेट को काट कर शीशा को फोड़ कर हटा दिया गया था। ताकि, कोई पहचान न कर सके। डीएसपी ने बताया कि मामले में गैराज मालिक मिथिलेश शर्मा को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। डीएसपी ने बताया कि सभी अपराधकर्मी के पास से आधा दर्जन मोबाईल भी बरामद किया गया है। मौके पर सर्किंल इंस्पेक्टर राजेश कुमार, एसएचओ सह पुनि महेन्द्र कुमार सिंह, साहरघाट एसएचओ सुरेन्द्र पासवान, अवर निरीक्षक मृत्युजंय कुमार भी मौजूद थे।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post