Ticker

6/recent/ticker-posts

सदस्यों ने कहा, अधिकारी के मिलीभगत से हो रहा किसानों का शोषण

 


बेनीपट्टी(मधुबनी)। ई किसान भवन के सभागार में प्रखंड उर्वरक सह निगरानी समिति की बैठक सीओ पल्लवी कुमारी गुप्ता की अध्यक्षता में हुई। जिसमें उर्वरक विक्रेताओं की उपस्थिति नहीं देख मौजूद सदस्य भड़क गये। भाकपा के अंचल मंत्री आनंद कुमार झा ने बैठक की शुरुआत में ही निंदा प्रस्ताव लाकर अधिकारियों के रवैये की निंदा की और कहा कि जब बैठक में उर्वरक विक्रेता ही मौजूद नही है तो सदस्यों को यह कैसे जानकारी मिलेगी कि किस दुकान में कितने उर्वरक किसानों के लिये उपलब्ध कराए गये और कितनी कीमतों पर किसानों के हाथों बेची जा रही है। उर्वरक के आवंटन और उपलब्धता सबंधित कोई जानकारी ही नही मिलेगी तो यह बैठक की खानापूरी क्यों की जा रही है? निंदा प्रस्ताव आते ही बैठक में मौजूद सभी सदस्यों ने एक स्वर में प्रस्ताव का समर्थन करते हुए कहा कि अधिकारी विक्रेताओं के साथ मिलीभगत कर कमीशन वसूलते हैं और किसान दिनोंदिन बदहाल हो रहे हैं। राजद प्रखंड अध्यक्ष विजय यादव ने सबंधित अधिकारी पर आरोप लगाया कि अपने संरक्षण में निर्धारित कीमत से अधिक दाम किसानों से वसूल कर दोहन करवा रहे हैं। लोजपा प्रखंड अध्यक्ष ललिन्द्र कुमार सिंह उर्फ कन्हैया सिंह ने प्रखंड में बिस्कोमान के तीन उर्वरक केंद्र खुलवाने का प्रस्ताव रखते हुए कहा कि पूर्व की बैठक में भी इसे पारित किया जा चुका है लेकिन पहल नही की जा सकी। जदयू प्रखंड अध्यक्ष शशिभूषण सिंह ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि किस उर्वरक का क्या दाम है यह सार्वजनिक किया जाना चाहिये। बैठक में मौजूद बीएओ विजय गुप्ता ने सभी सदस्यों को आश्वस्त कराया कि सभी शिकायतों का निदान किया जायेगा। सीओ पल्लवी कुमारी गुप्ता ने कहा कि किसान ही देश की रीढ़ हैं। जो सभी को पेट पालने का काम करते हैं। मौके पर बीसीओ संजीत कुमार गुप्ता सहित अन्य लोग भी मौजूद थे।

Post a comment

0 Comments