कन्हैया मिश्र कश्यप
बिहार विधानसभा चुनाव की डुगडुगी बजने से पहले ही नेताओं के टिकट की दावेदारी राजनीतिक सरगर्मी को बढ़ा दिया है। बेनीपट्टी सीट पर महागठबंधन जहां अभी भी स्थिर बना हुआ है तो वही सबसे अधिक दावेदारी एनडीए गठबंधन की ओर से सामने आ रही है। एनडीए गठबंधन की ओर से एलजेपी पूरी तरह से शांत है। जबकि बीजेपी व जेडीयू की ओर से थोक में उम्मीदवार सामने आ रहे है। दोनों दल के नेता कोरोना के बावजूद, जनसंपर्क अभियान चलाए हुए है।

बीजेपी की ओर से पूर्व जिलाध्यक्ष घनश्याम ठाकुर, रंधीर ठाकुर व जिला पार्षद खुशबू कुमारी टिकट की आस लगाए हुए है। तो वही वर्तमान में बिहार सरकार के मंत्री विनोद नारायण झा सहज है। चूंकि, गत विधानसभा चुनाव में वर्तमान कांग्रेस विधायक भावना झा से मामूली साढ़े चार हजार वोट से पराजित हो गए थे। ऐसा माना जा रहा है कि एनडीए के तरफ से विनोद नारायण झा का पलड़ा अन्य उम्मीदवारों से भारी है। 

जेडीयू की बात करे तो सबसे अधिक उम्मीदवारी सामने आ रही है। जेडीयू के तरफ से जिला उपाध्यक्ष नीरज झा, जटाशंकर झा, संजीव झा, विनोद शंकर झा तो वही ई नवीन चंद्र झा को भी उम्मीद है कि पार्टी उन्हें टिकट दे सकती है। बता दे कि पिछले दो विधानसभा चुनाव में बेनीपट्टी की सीट बीजेपी के कोटे में जाती रही है। ऐसे में जेडीयू नेताओं के चहलकदमी से भादो में राजनीतिक ताप बनी हुई है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post