बेनीपट्टी(मधुबनी)। प्रखंड के नरही गांव में सड़क के अभाव में लोगों की परेशानी बढ गई है। आजादी के इतने दशकों के बाद भी आज तक इस गांव के लोग एक अदद सड़क से वंचित हैं, जिसमें विभागीय उदासीनता मुख्य कारण है। इस गांव की मध्य से होकर गुजरने वाली मुख्य सड़क जो सिर्फ इस गांव को ही नही बल्कि आस पास के कई गांवों को भी एक दुसरे से जोड़ती है वो आज भी कच्ची और टुटी फूटी है।  जबकि इस सड़क की अनुशंसा स्थानीय विधायक भावना झा के द्वारा  कार्यपालक अभियंता ग्रामीण कार्य विभाग कार्य प्रमंडल बेनीपट्टी से किया जा चुका है। लेकिन कार्य प्रमंडल के द्वारा विधायक के अनुशंसा पर कोई भी कार्रवाई नही की है, जिससे ग्रामीणों में जबरदस्त आक्रोश है। गौरतलब है नरही गांव के उतर में फाटक है, झौंझी गांव तक जानेवाली मुख्यमंत्री ग्राम सड़क है, उसी फाटक से करीब डेढ़ किमी की ये सड़क गांव के मध्य में अवस्थित पंचायत के मात्र एक मध्य विद्यालय से होकर तीन सौ से भी अधिक परिवार वाले खतवे टोल से जाकर मिलती है। मध्य विद्यालय में पांच सौ से अधिक छात्र-छात्रा पढ़ने आते है जिसमें बड़ी संख्या इस महादलित बस्ती के बच्चों की है। साथ ही पंचायत के अन्य बच्चे भी इसी रास्ते से होकर शिक्षा प्राप्त करने इस विद्यालय तक आते है जिन्हें आने जाने में बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है। साथ ही इस मध्य विद्यालय में 198/199 बूथ भी है,जहां बड़ी संख्या में लोग अपने मताधिकार का प्रयोग कर लोकतंत्र में सहभागी बनते है, बावजूद इस ओर ध्यान नही दिया जा रहा है जो दुखद है, जिससे ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है जो कभी भी आंदोलन का स्वरूप ले सकता है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post