Ticker

6/recent/ticker-posts

बिहार के विकास के लिए हमेशा गंभीर रहे डॉ जग्गनाथ मिश्र

बेनीपट्टी(मधुबनी)। बेहटा कालिस्थान के धर्मशाला में कार्यक्रम आयोजित कर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. डा. जग्गनाथ मिश्र की जयंती मनाई गई। इस दौरान उपस्थित लोगों ने स्व. मिश्र के तैलचित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धासुमन अर्पित किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाजपा के वरीय नेता रंधीर ठाकुर ने कहा कि स्व. डा. मिश्र बिहार के विकास के लिए सदैव संघर्षशील रहे। उनके नेतृत्व में हर तबके का विकास हुआ। उनके कार्यकाल में ही बिजली, शिक्षा, कानून, ओद्यौगिक, स्वास्थ्य, कृषि, रेल सहित अन्य विभागों को विकसित किया गया। उनके द्वारा बिहार में सड़क, पुल-पुलियों का जाल बिछाया गया। श्री ठाकुर ने कहा कि स्व. मिश्र के कार्यकाल में ही 54 हजार प्राथमिक, 3 हजार माध्यमिक, 429 संस्कृत विद्यालयों का राजकीयकरण, 235 महाविद्यालयों, 39 संस्कृत महाविद्यालयों का अंगीभूतिकरण, 16 सौ संस्कृत विद्यालय, 11 सौ मदरसो का वित सहित मान्यता, संस्कृत और मदरसा शिक्षको को सरकारी शिक्षको के समान वेतनमान, शिक्षित बेरोजगारों के नियोजन, बिहार में विकास का पुल बनाने में योगदान, किसानों के हितो को प्राथमिकता, समाजिक सुरक्षा पर विशेष जोर, महिला हितो पर संवेदनशीलता, समाज के सबसे पिछड़े वर्गो के उत्थान, बेघरों और भूमिहीनों के हितो में कार्य, झारखंड बनने से पहले बिहार में विकास की बुनियाद, विधि व्यवस्था दुरूस्त कर कायम कानून राज, जनता दरबार की परंपरा, पंचायती राज प्रणाली की मजबूत बुनियाद, भ्रष्टाचार नियंत्रण, अवैद्य धन और संपति पर कठोकर कार्रवाई का प्रावधान, मंत्री पर आरोप लगने पर कार्रवाई का प्रावधान सहित कई अहम कार्य किए गये। मौके पर अमरनाथ प्रसाद, राजीव कुमार, बब्लू प्रसाद गुप्ता, आयुष सिंह, भास्कर चौधरी, नरेंद्र राउत, वीरेंद्र झा, सोनू झा, किसलय झा, सीता देवी, भारती देवी, वीणा देवी, मुन्नी देवी, उर्मिला देवी, नीतीश कश्यप, मनीष झा, दिनेश कर्ण, गौतम कुमार झा, अमन कुमार झा, अमित झा, वैभव कुमार झा, पिंटू कुमार झा, सुमन झा तथा शौकत अली नूरी सहित अन्य ने भी अपना विचार प्रकट किया।

Post a comment

0 Comments